जेएनएन, लुधियाना। थरीके रोड स्थित आजाद नगर इलाके में रविवार की शाम चार कुत्तों ने गली में खेल रहे तीन वर्षीय बच्चे को बुरी तरह से नोंच लिया। बच्चा चिल्लाता रहा, लेकिन कुत्ते उसे छोड़ नहीं रहे थे। परिजनों ने कुत्तों के चंगुल में बच्चे को देखकर किसी तरह से उन्हें छुड़ाया। जिसके बाद पीड़ित विशाल कुमार को नजदीकी अस्पताल में पहुंचाया गया। लेकिन वहां इलाज महंगा होने के चलते परिवार बच्चे को एक क्लीनिक में ले गया। जहां पता चला कि बच्चे के शरीर पर कुल 30 घाव हैं।

वहीं, लोगों का आरोप था कि वो निगम को कुत्तों के बारे मे कई बार शिकायत कर चुके हैं लेकिन कोई हल नहीं हो रहा। लिहाजा आए दिन कोई न कोई शख्स कुत्तों का शिकार हो रहा है। जानकारी देते हुए आजाद नगर निवासी प्यारे लाल ने बताया कि उनकी एक बेटा और एक बेटी है। बेटा विशाल छोटा है। रविवार की शाम करीब साढ़े चार बजे प्यारे लाल पास के गुरुद्वारा साहिब माथा टेकने चला गया और उसकी पत्नी राज कुमारी किसी काम से बाहर गई हुई थी। विशाल गली में खेल रहा था।

गली में चार आवारा कुत्तों ने विशाल को नोंचना शुरू कर दिया। कुत्ते विशाल को घसीटकर खेतों में ले गए। इस दौरान वहां से गुजर रहे विशाल के चेचेरे भाई छोटू ने उसे देखा तो परिवार को सूचना दी। उन्होंने बच्चे को छुड़वाया। 

यह भी पढ़ें: हाइवे के आसपास शराब ठेके खोलने पर हाई कोर्ट सख्‍त, सरकार को नोटिस

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!