खन्ना, जेएनएन। पाकिस्तान से भाग कर भारत आकर रह रहे पूर्व विधायक बलदेव कुमार का करवा चौथ के दिन ही पत्‍नी से विवाद हो गया। विवाद इन कदर बढ़ गया कि मामला पुलिस में पहुंच गया। इसके बाद बलदेव कुमार को थाना जाना पड़ा। वहां उनका बाद में पत्‍नी से समझौता हो गया।

बता दें कि बलदेव कुमार पाकिस्‍तान के खैबर पख्तूनख्वा (केपीके) राज्य की बारीकोट सीट से पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पूर्व विधायक थे। वह पिछले दिनों विवाद में रहे और इसी कारण पाकिस्‍तान से भारत आ गए। पाकिस्‍तान से उनको इस दौरान धमकियां भी मिलीं। अब वह करवा चौथ के दिन ही पत्‍नी संग विवाद में फंस गए।

बलदेव कुमार की सास ज्योति ने उन पर अपनी पत्‍नी भावना और ससुरालियों तंग करने का आरोप लगाकर पुलिस को शिकायत दी। इसके बाद करवा चौथ वाले दिन बलदेव कुमार को थाने जाना पड़ा। हालाकि बाद में दोनों पक्षों में लिखित समझौता हो गया।

पुलिस के अनुसार पिछले कुछ दिनों से बलदेव के साथ चल रहे विवाद को लेकर उसके ससुराल पक्ष के लोग खन्ना के एसएसपी से भी मिले थे। वीरवार विवाद बढ़ा तो उनकी सास ज्योति ने पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112 पर शिकायत कर दी। इसके बाद बलदेव को थाना सिटी-एक बुलाया गया।

एसएचओ कुलजिंदर सिंह ने कहा कि सास ज्योति ने बलदेव कुमार पर पत्‍नी को तंग करने और परिवार के पालन-पोषण के लिए कोई काम न करने के आरोप लगाए थे। समझौता होने के बाद ससुराल वाले बलदेव को दोबारा अपने साथ ले गए।

बलदेव बोले- मेरे पास नहीं है वर्क परमिट

पूरे मामले पर बलदेव कुमार ने कहा कि ससुराल वाले उसे काम करने को कह रहे हैं, लेकिन उनके पास वर्क परमिट नहीं है। वीजा भी 12 नवंबर को खत्म हो जाएगा। करीब 15 दिन पहले वीजा बढ़ाने की अर्जी दी थी, जिस पर कोई जवाब नहीं मिला है। भारत में राजनीतिक शरण मांग पर भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!