जेएनएन, लुधियाना। पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (PCA) में एक खास वर्ग द्वारा करोड़ों के फंड में घपला करने और संविधान के अनुसार PCA को न चलाने के आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत पंजाब के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (ACS) को की गई है। प्रदेश के कुछ पूर्व राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों ने सरकार से घोटाले की जांच करवाने की मांग की है।

पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर भूपिंदर सिंह सीनियर का आरोप है कि पिछले 20 सालों में एक हजार करोड़ रुपये PCA में पहुंचे, लेकिन उसका दुरुपयोग किया गया। इतना ही नहीं, एक खास लॉबी वर्षों से PCA पर कब्जा जमाकर मनमाने तरीके से संचालन कर रही है। क्रिकेटरों को PCA का सदस्य नहीं बनाया जाता, लेकिन पदाधिकारियों के ड्राइवर और नौकर तक सदस्य बने बैठे हैं, ताकि उन्हें मतदाता के रूप में इस्तेमाल किया जा सके।

लुधियाना में प्रेस कांफ्रेंस में भूपिंदर सिंह सीनियर ने कहा कि प्रत्येक वर्ष 35 से 80 करोड़ रुपये की राशि BCCI (बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया) की ओर से आती है। वर्ष 2015 से पहले तक इस राशि का कोई हिसाब नहीं रखा गया, लेकिन उसके बाद जस्टिस लोधा के सुझाव के बाद स्टेट एसोसिएशन के लिए बैलेंस शीट बनाना अनिवार्य कर दिया गया। हालांकि बैलेंस शीट तैयार करने में भी हेराफेरी की गई। अब पंजाब के पूर्व क्रिकेटर इसके खिलाफ एकजुट हो रहे हैं।

नियमों के विरुद्ध हरियाणा के पुनीत बाली को PCA का सचिव बनाया

भूपिंदर सिंह ने कहा कि इससे पहले वह PCA के प्रेसिडेंट राजिंदर गुप्ता के ध्यान में भी यह मामला लाए हैंं। उन्होंने आश्वासन दिया है कि वह PCA की एपेक्स कमेटी में मामले को रखेंगे, लेकिन कमेटी के 19 सदस्यों में सभी उसी लॉबी के हैं, इसलिए उसमें न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है, इसलिए उन्होंने अब पंजाब सरकार का द्वार खटखटाया है। प्रदेश के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी को विस्तार से रिपोर्ट देकर जांच की मांग की गई है। उन्होंने कहा कि पंजाब के किसी जिला एसोसिएशन का स्थायी सदस्य न होने के बावजूद हरियाणा निवासी पुनीत बाली को PCA का सचिव बना दिया गया और साथ ही उन्हें संगरूर जिला क्रिकेट एसोसिएशन के प्रतिनिधि के रूप में शामिल किया गया है।

नियमों का उल्लंघन कर पटियाला जिला क्रिकेट एसोसिएशन का नाम बदला

पूर्व क्रिकेटर भूपिंदर सिंह ने कहा कि पटियाला जिला क्रिकेट एसोसिएशन का नाम नियमों का उल्लंघन कर बिना कागजी कार्रवाई के बदलकर पटियाला क्रिकेट एसोसिएशन कर दिया गया। PCA से मिलने वाला फंड इस नए एसोसिएशन को ट्रांसफर कर दिया गया, क्योंकि BCCI के पूर्व सचिव एमपी पांडोव और आरपी पांडोव PCA में अपना खास दखल रखते हैं।

आरोप लगाया कि PCA से मिले फंड का दुरुपयोग किया गया। यह मामला तब सामने आया, जब पता चला कि बिना अनुमति के पटियाला जिला क्रिकेट एसोसिएशन का नाम बदल दिया गया और दोनों एसोसिएशन PCA के रिकॉर्ड में हैं। इतना ही नहीं, बिना लीज के सरकारी जमीन पर ध्रुव पांडोव स्टेडियम बना दिया। इस मामले में पूर्व क्रिकेटर राकेश हांडा ने पंजाब के डीजीपी को लिखित शिकायत की है।

हाई कोर्ट ने दिया एलडीसीए चुनाव करवाने का आदेश

पंजाब की कई जिला एसोसिएशन के चुनाव पिछले कई सालों से नहीं हुए हैं। इसी क्रम में पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने लुधियाना जिला क्रिकेट एसोसिएशन (एलडीसीए) के चुनाव हाईकोर्ट के जज की देखरेख में करवाने के आदेश दिए हैं। भूपिंदर सिंह ने बताया कि लुधियाना जिला क्रिकेट एसोसिएशन में भी पदाधिकारी 20-20 सालों से जमे हुए हैं और किसी को आगे आने नहीं देते। चुनाव कागजों में करवा दिया जाता है, लेकिन अब अदालत की देखरेख में चुनाव होगा। इसके आर्डर एक-दो दिन में आने हैं। इसके बाद प्रदेश के अन्य जिलों में भी चुनाव करवा कर क्रिकेटरों को आगे लाया जाएगा।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!