लुधियाना, जेएनएन। लाखों रुपये के देनदारों ने इस कदर धमकाया कि तनाव में आकर फाइनांसर ने जहर निगल लिया। इलाज के लिए उसे डीएमसी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

थाना डेहलों पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ आत्महत्या को उकसाने के आरोप में केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी है।

इंस्पेक्टर सुखदेव सिंह ने बताया कि आरोपित गांव आलमगीर निवासी सगे भाई गुरमेल सिंह, अमरजीत सिंह समेत उसी गांव में रहने वाले जसवंत सिंह व राजू हैं। मृतक की पहचान गांव आलमगीर निवासी सुरिंदर पाल सिंह (61) के रूप में हुई है। पुलिस ने उसकी पत्नी जसवीर कौर की शिकायत पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया। उसने बताया कि उसका पति फाइनांसर था। गिल चौक स्थित दशमेश नगर की गली नंबर 2 में उनकी उनकी आलमगीर फाइनांस कंपनी के नाम से फर्म है।

गुरमेल सिंह और अमरजीत सिंह ने 2010 में उसके पति से अपने घरेलू काम के लिए रुपये लिए थे। उसके बाद वो लगातार पांच-छह साल उनसे पैसे लेते रहे। वो रकम बढ़ कर अब 40 लाख रुपये हो चुकी है। उसका ब्याज अलग से खड़ा है। आरोपितों ने अपनी जमीन बेच कर उसके पति को पैसे लौटाने का वादा किया था, लेकिन अब वो दोनों रुपये लौटाने में आना कानी करने लगे। पांच जनवरी के दिन चारों आरोपितों ने उसके पति के साथ गाली गलौज की। आरोपितों ने उसे धमकाया कि वो उसके रुपये नहीं देंगे, वो जो चाहे कर सकता है।

इसके बाद उसके पति ने वो बात उसे घर आकर बताई। हताशा होकर उसके पति ने छह जनवरी तड़के तीन बजे घर में पड़ी कोई जहरीली वस्तु निगल ली, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। इलाज के लिए उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां उसने दम तोड़ दिया। सुखदेव ने कहा कि पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिजनों को सुपुर्द कर दिया है। मृतक का एक बेटा व एक बेटी है। दोनों विवाहित हैं और कनाडा में रहते हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!