जागरण संवाददाता, जगराओं : धरने में मंडियों में किसानों की लूट के आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर संयुक्त किसान मोर्चे के निमंत्रण पर रेलवे स्टेशन पार्क जगराओं में धरना दिया गया। इस मौके पर किसानों ने मंडियों में किसानों की हो रही लूट-खसूट के खिलाफ आवाज बुलंद की। उन्होंने कहा कि पहले मंडियों में किसानों को व्यापारियों ने ग्रुप बनाकर तय कीमत तक कम वजन कर प्रति क्विंटल हजार-पंद्रह सौ का चूना लगाया। बीते दिनों कई गांवों में हुई बारिश कारण अनेक किसानों की मूंगी, मक्की व पुदीने की फसल तबाह हो गई है। अब मंडियों में मूंगी अधिक तोल कर ली जा रही है। इस संबंध में किसान संघर्ष मोर्चे ने संघर्ष करने की घोषणा की है। इस मौके पर दर्शन सिंह गालिब व लोक नेता कंवलजीत खन्ना ने 26 जून को इमरजेंसी के काले दिन पर संयुक्त किसान मोर्चे की ओर से खेती बचाओ लोकतंत्र बचाओ के नारे पर शहर में विशाल रोष प्रदर्शन करने की घोषणा की। इस मौके पर सरबजीत सिंह ग्रेवाल, इकबाल सिंह बूटर, जगदीश सिंह सहित अन्य किसान मौजूद थे। संयुक्त किसान मोर्चे की अगुवाई में खेती कानूनों विरूद्ध चल रहे आंदोलन तहत चौकीमान टोल प्लाजा पर लगातार जारी संघर्ष को साढ़े आठ महीने से समय बीत चुका है। इस मौके पर दशमेश किसान मजदूर यूनियन के प्रधान सतनाम सिंह, जसदेव सिंह ललतों, अजमेर सिंह तलवंडी, आत्मा सिंह, गुरमिदर सिंह, जसवीर सिंह, मलकीत सिंह, ग्रामीण मजदूर यूनियन के अवतार सिंह रसूलपुर ने दिल्ली हाईकोर्ट की ओर से स्टूडेंट नेता नताशा नरवाल ,देवांगन कलिता, आसिफ इकबाल, तन्हा की जमानत मंजूर करने पर अपने विचार प्रकट किए। इस मौके पर हरी सिंह चचराड़ी गुरदयाल सिहं, सुखजीवन सिंह, पप्पू मान, गुरमेल सिंह कुलार ,अजीत सिंह कुलार, जसवंत सिंह मान, मलकीत सिंह बदोवल सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।

Edited By: Jagran