मुल्लांपुर दाखा (लुधियाना), संवाद सहयोगी। पंजाब में एक पुराने कांग्रेस कार्यकर्ता ने आत्‍महत्‍या कर ली। उन्‍हाेंने जान देने से पहले पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के नाम एक आडियो भी जारी किया और इसमें उन्‍होंने कांग्रेस पर बड़ा इल्‍जाम लगाया है। आडियो में उन्‍होंने कहा है कि पार्टी में कार्यकर्ताओं की कोई सुनवाई नहीं होती। इस मामले के सामने आते ही पंजाब कांग्रेस में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना मिलने के बाद देर रात नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस कार्यकर्ता के घर पहुंचे। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर हैप्‍पी के आत्‍महत्‍या करने पर दुख जताया।

लुधियाना जिले के दाखा विधानसभा हलका के गांव जांगपुर के पुराने कांग्रेस वर्कर 49 वर्षीय दलजीत सिंह हैप्पी बाजवा ने वीरवार को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के नाम आडियो जारी कर जहर खाकर जान दी। हैप्पी ने गांव हिस्सोवाल में जाकर जहरीला पदार्थ निगला और मौत के लिए तीन लोगों को जिम्मेदार ठहराया। दो लोगों को पुलिस ने रात में ही गिरफ्तार कर लिया।

आडियो में कहा- पार्टी में नहीं होती वर्करों की सुनवाई

थाना दाखा पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आत्महत्या के लिए जिम्मेदार बताए गए दो लोगों प्रीतम सिंह और महिंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। बलजिंदर सिंह फरार है। हैप्पी बाजवा कांग्रेस के स्पोर्टस एंड कल्चरल सेल देहाती के जिला चेयरमैन थे। हैप्पी बाजवा ने आत्महत्या करने से पहले पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को संबोधित एक आडियो इंटरनेट मीडिया में शेयर किया।

आडियो में सिद्धू से कहा, तीस साल कांग्रेस के लिए लगाए, परिवार के लिए आटा-दाल तक नहीं लगवा पाया

आडियो में हैप्‍पी ने कहा, ' कांग्रेस वर्करों की सिस्टम में कोई सुनवाई नहीं है। मैंने तीस साल कांग्रेस की सेवा की, इसके बावजूद अपने परिवार के लिए आटा-दाल तक नहीं लगवा पाया। चुनावों में पार्टी के प्रचार के लिए मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब सहित कुछ और राज्यों में भी काम किया। पार्टी के पोस्टर तक लगाए। कई बार केस भी दर्ज हुए पर पार्टी का साथ नहीं छोड़ा लेकिन मिला कुछ नहीं। इस बात का मलाल हमेशा रहेगा।'

आत्महत्या के लिए गांव के ही तीन लोगों को बताया जिम्मेदार, दो गिरफ्तार

हैप्पी बाजवा ने आडियो में गांव के तीन लोगों प्रीतम सिंह, महिंदर सिंह और बलजिंदर सिंह को जिम्मेदार ठहराया है। हैप्‍पी ने बताया कि उन्‍होंने जमीन खरीदी लेकिन इन्होंने उसमें भी रुकावट डाली। मेरे खिलाफ झूठी गवाही दी। अब मैं अपने जीवन से परेशान हूं। दलजीत के भाई सुरिंदर सिंह ने कहा कि यह आडियो उनके भाई की है। उसने उम्र भर कांग्रेस पार्टी की सेवा की है।

पार्टी की सेवा के लिए शादी नहीं की, भाई के बच्चों का ध्यान रखें सिद्धू

हैप्पी बाजवा ने आडियो में यह भी कहा कि उन्‍होंने पार्टी की सेवा के लिए शादी भी नहीं की। उन्‍होंने अपने भाई और उसके बच्चों के साथ ही जीवन बिताया है। भाई के बच्चों को ही अपने बच्चे समझे। सिद्धू से गुजारिश की कि वह भाई के बच्चों पर अपना हाथ रखें और उनकी मदद करें।

जमीर मारकर कर रहा हूं खुदकुशी

आडियो में हैप्पी बाजवा ने कहा कि मैंने आंतकवाद के दौर में भी पार्टी के लिए निडर होकर काम किया। हमेशा कड़ी मेहनत की। सुनवाई नहीं होने पर अब जमीर मारकर आत्महत्या जैसा बड़ा कदम उठाने जा रहा हूं।

रात को घर पहुंचे सिद्धू ने दस लाख देने की घोषणा की, कैप्टन ने ट्वीट कर दुख जताया

घटना की जानकारी मिलने के बाद वीरवार देर रात पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू गांव जांगपुर पहुंचे। उन्होंने हैप्पी बाजवा के परिवार को पंजाब कांग्रेस कमेटी की ओर से 10 लाख रुपये की तत्काल मदद देने की घोषणा की। उधर, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कांग्रेस वर्कर हैप्पी बाजवा की मौत पर दुख जताया। उन्होंने डीजीपी दिनकर गुप्ता को आदेश दिए कि मामले की जांच कर तत्काल आरोपितों पर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि मामले में किसी भी आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा।

Edited By: Sunil Kumar Jha