लुधियाना, [राजन कैंथ]। CBI Raid In Punjab: सीबीआइ की टीम ने अमृतसर में तैनात कस्टम विभाग के एक सुपरिटेंडेंट को हिरासत में लेने के बाद बुधवार को लुधियाना ड्राईपोर्ट पर कार्यरत एक महिला उच्च अधिकारी से भी कई घंटे पूछताछ की। इसके बाद टीम ने महिला अधिकारी को साथ लेकर उसके घर की तलाशी ली। जबकि कार्यालय को सील कर दिया गया। फिलहाल सीबीआइ की ओर से इस मामले को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है।

सूत्रों का कहना है कि इन दोनों अधिकारियों पर बिना क्लीयरेंस के लुधियाना ड्राईपोर्ट से दुबई से लाए गए सिगरेट के कंटेनर को क्लीयर करने और कथित मिलीभगत कर स्क्रैप की आड़ में विदेश से लाए गए इलेक्ट्रानिक गुडस कंटेनर क्लीयर करने का आरोप है। सूत्रों का कहना है कि कुछ माह पहले लुधियाना ड्राईपोर्ट से सिगरेट से भरे कंटेनर बिना क्लीयरेंस के निकाल दिए गए थे, जिन्हें सेंट्रल जीएसटी अधिकारियों ने पकड़ लिया था। इसके बाद तत्कालीन कस्टम कमिश्नर एएस रंगा के निर्देशों पर एक सुपरिटेंडेंट के खिलाफ थाना साहनेवाल में केस भी दर्ज किया गया।

रंगा ने ड्राईपोर्ट पर आ रहे कंटेनर पूरी चौकसी के साथ जांचने के निर्देश दिए थे और इसके चलते कई अवैध उत्पादों से भरे कंटेनर बंदरगाह पर पकड़े भी गए। सीबीआइ की ओर से यह मामला अपने हाथ में लिए जाने के बाद बड़ा खुलासा होने के उम्मीद है। सूत्रों का कहना है कि सिगरेट मामले में संलिप्त क्लीयरिंग हाउस एजेंट (सीएचए) को पकड़ने के लिए भी सीबीआइ ने बुधवार को लुधियाना में कई जगह छापामारी की। लेकिन वह पकड़ में नहीं आया।

चार गाड़ियों में पहुंची सीबीआइ टीम

कस्टम कमिश्नरेट लुधियाना के साहनेवाल स्थित मुख्य कार्यालय में सुबह चार गाड़ियों में चंडीगढ़ से पहुंची सीबीआइ अधिकारियों की टीम के दबिश देने से कार्यालय में हड़कंप मच गया। टीम ने उच्च अधिकारियों से पूछताछ करने के बाद कई फाइलों की जांच भी की। जानकारी के अनुसार किसी फाइल को क्लियर करने के लिए एक अधिकारी ने कथित तौर पर रिश्वत मांगी थी। बताया गया है कि अमृतसर में उसे रिश्वत लेते हुए सीबीआइ ने गिरफ्तार किया है और उसके बयान के बाद सीबीआइ की टीम जांच के लिए लुधियाना पहुंची। हालांकि इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हो पाई है। गौरतलब है कि लुधियाना में कुछ दिन पहले ही एक पुरानी जांच में कस्टम के दो अधिकारियों और एक एजेंट को गिरफ्तार किया गया था।

Edited By: Vipin Kumar