लुधियाना, जेएनएन। Punjab corona vaccination कोरोना से जंग जीतनी है तो पंजाब के सभी गांवाें को पायल हलके के भिक्खी गांव के लोगों से सीख लेनी होगी। भिक्खी प्रदेश का पहला ऐसा गांव बन गया है  जहां 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना वैक्सीन लग गई है। शनिवार काे जिला प्रशासन ने भिक्खी गांव को 100 फीसद वैक्सीनेटेड गांव घोषित कर दिया। प्रशासन अब गांव को विकास के लिए स्पेशल ग्रांट जारी करेगा। 100 फीसद वक्सीनेटेड होने के उपलक्ष्य में एक छोटा कार्यक्रम रखा गया, जिसमें विधायक व प्रशासनिक अफसर शामिल हुए।

भिक्खी गांव की आबादी 1700

पायल हलके के विधायक लखबीर सिंह लक्खा ने बताया कि गांव में 1700 लोग हैं जिसमें से 947 निवासी 18 साल से अधिक हैं। इसमें से 18 महिलाएं गर्भवती हैं जिसकी वजह से उन्हें टीका लगाने के लिए अनफिट करार दिया गया। इसके अलावा 24 लोगों को स्वास्थ्य कारणों से अनफिट बताया गया। इसके अलावा 905 लोगों को वैक्सीन लगा दी गई।

ग्रामीणों ने वैक्सीन को लेकर बेहद उत्साह दिखाया

एडीसी संदीप सिंह ने बताया कि ग्रामीणों ने वैक्सीन को लेकर बेहद उत्साह दिखाया और सूबे में पहला सौ फीसद वैक्सीनेशन का तगमा हासिल किया। उन्होंने बताया कि गांव में विकास कार्यों के लिए 10 लाख रुपये की ग्रांट दी जाएगी। डीसी वरिंदर कुमार शर्मा ने भी गांव के लोगों को बधाई दी और उन्होंने शहरवासियों समेत अन्य गांवों से अपील की है कि इसी तरह अपने वार्डों व गांवों को 100 फीसद वैक्सीनेट करवाएं। वैक्सीन लगवाने के मामले में लुधियाना पंजाब में नंबर एक पर है। कोरोना से लोगों को बचाने के लिए सेहत विभाग ने कमर कसी हुई है और वैक्सीनेशन की प्रक्रिया तेज कर दी है। जिले में 60 साल से अधिक उम्र व 45 से 59 साल तक गंभीर वाली बीमारी से जूझ रहे लोगों को भी कोरोना का टीका लग रहा है और लोग बड़े उत्साह के लिए वैक्सीन लगवाने के लिए सेशन साइट्स पर पहुंच रहे है।

 

Edited By: Vipin Kumar