लुधियाना, जेएनएन। सलेम टाबरी स्थित भगवान नगर कॉलोनी में बीकॉम प्रथम वर्ष की छात्रा ऐश्वर्या ने फंदा लगाकर जान दे दी। थाना सलेम टाबरी की पुलिस ने शव को सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया। पुलिस को मृतका के कमरे में से दो पेज का सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें उसने अपनी मौत का जिम्मेदार खुद की बीमारी को बताया है।

पुलिस को बयानों में मृतक युवती के पिता जसवीर सिंह ने बताया कि वह प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं। उनके एक बेटा और एक बेटी है। बेटी ऐश्वर्या छोटी है। वह पिछले कुछ समय से बीमार चल रही थी और परेशान रहती थी। वह जालंधर बाईपास स्थित कॉलेज में बीकॉम प्रथम वर्ष की छात्रा थी। पिता के मुताबिक, वीरवार की रात वह काम से घर लौटे। बेटी को खाना खाने के लिए बुलाने उसके कमरे में गए तो पंखे से चुनरी के साथ लटकता उसका शव देखा। एएसआइ सुरिंदर सिंह ने बताया कि शव के पास दो पेज का सुसाइड नोट मिला है। इसमें उसने अपनी मौत का जिम्मेदार खुद को बताया है। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

दो पेज का इंग्लिश भाषा में लिखा सुसाइड नोट

ऐश्वर्या ने मरने से पहले दो पेज का इंग्लिश भाषा में सुसाइड नोट लिखा। इसमें उसने मौत का कारण खुद की बीमारी से तंग होना बताया है। उसने लिखा कि वह पिछले काफी समय से थायराइड की बीमारी से जूझ रही है। इससे वह बहुत तंग आ चुकी है। उसकी मौत का जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि वह खुद ही है।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!