जासं, लुधियाना :

एक मरीज की मौत के मामले में थाना हैबोवाल की पुलिस ने जस्सिया रोड स्थित आरोग्य अस्पताल के मालिक डाक्टर दंपती व स्टाफ के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। फिलहाल इस मामले में किसी की गिरफ्तारी अभी नहीं हुई है।

जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर भजन लाल ने बताया कि बैंक कालोनी के दीपक कुमार पासी ने पुलिस के पास शिकायत की थी। इसमें आरोप लगाया था कि 15 जनवरी 2021 को उनके पिता त्रिलोक चंद पासी की तबीयत खराब हुई थी। उन्हें आरोग्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। ठंड के कारण अस्पताल के स्टाफ ने वार्ड में उनके बेड के पास हीटर लगा रखा था। रात को हीटर से उनकी टांगें बुरी तरह झुलस गई। उन्हें वहां से डीएमसी भेजा गया। डीएमसी में दस दिन भर्ती रहे। टांगें जल जाने के कारण उनकी हालत बहुत खराब हो गई थी। आपरेशन कर एक टांग काटनी पड़ी। इसके बाद उन्हें डीएमसी से पीजीआइ रेफर कर दिया गया। वह एक हफ्ते पीजीआइ में भर्ती रहे और वहां उनकी मौत हो गई। दीपक ने आरोप लगाया कि आरोग्य अस्पताल के डाक्टरों व स्टाफ की लापरवाही के कारण उनके पिता की मौत हुई है। पुलिस ने यह शिकायत सिविल सर्जन कार्यालय को भेजी थी। सिविल सर्जन और फोरेंसिंक एक्सपर्ट की रिपोर्ट में बताया गया कि अस्पताल प्रबंधन व स्टाफ की लापरवाही थी। इसके बाद पुलिस ने अस्पताल के मालिक डाक्टर दंपती और स्टाफ के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Edited By: Jagran