जागरण संवाददाता, लुधियाना। CICU Workshop in Ludhiana: पंजाब के युवाओं में टैलेंट की कमी नहीं, अब युवा इंडस्ट्री को नई बुलंदियों पर ले जा रहे हैं, ऐसे में युवाओं को सही दिशा प्रदान की जाए, तो पंजाब के उद्योगों को विश्व बाजार में अग्रणी बनाया जा सकता है। इसको लेकर चेंबर आफ इंडस्ट्रीयल एवं कमर्शियल अंडरटेकिंग (सीआइसीयू) की ओर से एक वर्कशाॅप भविष्य के मैनेजर का आयोजन 23 सितंबर दिन वीरवार को किया जा रहा है।

इस दौरान भविष्य के मैनेजर कैसे तैयार किए जाएं, उनमें क्या खूबियां होनी चाहिए और भविष्य की क्या चुनौतियां हैं, इसपर विस्तार से चर्चा की जाएगी। इसमें स्मार्ट मैनेजर के तौर तरीके, आज बदली चुनौतियों में कैसे बदलाव आ रहे, कैसे स्किल चाहिए, स्ट्रेस मैनेजमेंट कैसे करें और कामन मिस्टेक को कैसे समाप्त किया जाए, इस पर विस्तार से चर्चा की जाएगी।

इस दौरान 35 वर्ष का अनुभव रखने वाले एचआर कंस्लटेंट एवं स्ट्रेटजी मैनेजर डॉ.प्रमोद लांबा बतौर मुख्य वक्ता शामिल होंगे। वे एचआर और स्ट्रेटजी में लंबे समय से काम कर रहे हैं। वे पावर प्वाइंट प्रेंजेटेशन के जरिए बारिकियों पर विस्तार से चर्चा करेंगे। सीआइसीयू के प्रधान उपकार सिंह आहुजा ने कहा कि अच्छे मैनेजर बनने के लिए अब कई नए तौर तरीके अपनाने होंगे। ऐसे में जाने माने एक्सपर्ट के माध्यम से इंडस्ट्री के युवाओं को बेहतरीन टिप्स देने को यह वर्कशाप आयोजित की जा रही है।

यह भी पढ़ें-Ludhiana Industry: आर्थिक संकट के दाैर से गुजर रही इंडस्ट्री, MSME सेक्टर के ​​लिए 4 साल का मोरेटोरियम मांगा

 

इंडस्ट्री की मांग काे देखकर फैसला

इसमें इंडस्ट्री का कोई भी प्रतिनिधि भाग ले सकता है। इसके लिए पिछले लंबे समय से इंडस्ट्री की मांग थी। क्योंकि इंडस्ट्री की फ्यूचर जनरेशन काम के तौर तरीकों से खुश न होकर विदेशों की ओर अग्रसर हो रही है। ऐसे में पंजाब के उद्योगों को बचाने के लिए इस तरह की वर्कशाॅप बेहद जरूरी है, ताकि इंडस्ट्री को अग्रसर कर पंजाब की खुशहाली को काम किया जा सके।

यह भी पढ़ें-Honey Trap: पाकिस्तान की जासूसी करता बठिंडा MES का चपरासी गिरफ्तार, ISI काे भेजता था खुफिया सूचनाएं

 

Edited By: Vipin Kumar