-शिक्षा विभाग ने वेबसाइट पर विद्यार्थियों को ई-कंटेंट उपलब्ध करवाने की बनाई योजना

-ई-कंटेंट तैयार करने के लिए बनाई 36 सदस्यीय कमेटी

-कमेटी के रिपोर्ट के बाद तकनीकी पहलू पर होगा काम

राजेश भट्ट, लुधियाना

शिक्षा विभाग सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को सीबीएसई और आइसीएसई बोर्ड की तर्ज पर ई-कंटेंट उपलब्ध करवाएगा। इसके लिए विभाग ने 36 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है, जो प्रारूप तैयार करसेक्रेटरी एजुकेशन को देंगे और उसके बाद इस प्रोजेक्ट के तकनीकी पहलू पर काम किया जाएगा। यह प्रोजेक्ट सिरे चढ़ा तो विद्यार्थियों को समस्याओं को हल कराने के लिए भटकना नहीं होगा, बल्कि विभाग के वेबपोर्टल पर सिलेबस से संबंधित सभी जानकारियां उपलब्ध हो जाएंगी। वहीं एजुसेट के जरिए चलने वाली कक्षाओं के लिए यह कंटेंट आरओटी पर भी वेबपोर्टल उपलब्ध होगा।

पंजाब के इंचार्ज डॉ. दविंदर के मुताबिक ई-कंटेंट के लिए गठित कमेटी में पहली कक्षा से 12 वीं कक्षा तक पढ़ाने वाले टीचर्स, प्रिंसिपल व विषय विशेषज्ञों को रखा गया है। कमेटी में प्राइमरी स्कूलों के 4 टीचर, मास्टर कैडर के विभिन्न विषयों के 16 टीचर, लेक्चरर कैडर के 3, पढ़ो पंजाब प्रोजेक्ट के 6 जिला को ऑर्डिनेटर, पढ़ो पंजाब के 4 स्टेट इंचार्ज, 2 प्रिंसिपल और एक ऑल ओवर इंचार्ज को शामिल किया गया है। कमेटी बैठक करके तय करेगी कि ई-कंटेंट का प्रारूप कैसा होना चाहिए और उसमें बच्चों को क्या फायदा हो सकता है। इस कमेटी की अभी पहली बैठक होना बाकी है।

-----

नियुक्त होंगे विषय विशेषज्ञ

कमेटी जब ई-कंटेंट प्रोजेक्ट का प्रारूप तैयार करेगी तो उसके बाद वेबसाइट पर किस तरह का कंटेंट अपलोड किया जाएगा। इसके लिए विषय विशेषज्ञों की टीमें बाद में बनाई जाएंगी। यह टीम अलग-अलग कक्षाओं के सिलेबस के मुताबिक कंटेंट तैयार करेगी।

---

वीडियो व एनिमेशन होंगे तैयार

ई-कंटेंट में सबसे ज्यादा जोर वीडियो व एनिमेशन के जरिए सिलेबस को समझाने पर रहेगा। अभी प्रोजेक्ट प्राथमिक स्तर पर है, लेकिन इसमें जो कंटेंट होगा उसमें मल्टी मीडिया डिवाइस का अधिक से अधिक प्रयोग करने पर जोर दिया जाएगा। इसके अलावा सिलेबस को एक्टिविटी बेस बनाया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!