संवाद सहयोगी, लुधियाना

दिलों से नफरत निकालकर आपसी भाइचारे को मजबूत कीजिए, सच्चा मुसलमान वही है जो हजरत मुहम्मद (स.) साहिब के बताए हुए रास्ते पर चले। ये विचार सोमवार को जामा मस्जिद में 12 वफात के एतिहासिक दिन के मौके पर मुसलमान भाइयों को संबोधित करते हुए पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब-उर-रहमान सानी लुधियानवी ने व्यक्त किए। उन्होने कहा कि हजरत मोहम्मद सललुल्लाहु अलैहीवसल्लम 12 रबी-उल-अव्वल के दिन ही 63 साल तक संसार में इंसानियत को प्यार-मोहब्बत, आपसी भाइचारे का पाठ पढ़ाकर अल्लाह तआला के पास वापस चले गए, इसीलिए आज के दिन को 12 वफात कहा जाता है। उन्होंने कहा कि 1400 वर्ष बीत जाने के बाद भी आपकी शिक्षाएं किसी परिवर्तन के बिना मूल रूप में मौजूद है और मानव जाति के मार्ग दर्शन के लिए आशा की किरण हैं।

इस अवसर पर नायब शाही इमाम मौलाना उसमान रहमानी, मौलाना कासिम, कारी मोहतरम, मौलाना महबूब आलम गोरखपुरी, अंजूम असगर, शाहनवाज अहमद, गुलाम हसन कैसर, मुख्य सचिव मुहम्मद मुस्तकीम विशेष रूप से उपस्थित थे।

साबरी जामा मस्जिद दाना मंडी द्वारा 12 रबी-उल पर जुलूस निकाला गया। जो दाना मंडी से आरंभ होकर विभिन्न एरिया से गुजरते हुए बस्ती जोधेवाल नजदीक बापू स्कूल में संपन्न हुआ। इस अवसर पर मो जाकिर, मो मोजिबुल, अब्दुल रज्जाक, मो. कौशर, मो. इरशाद, मो. तसलीम, मो. नाजिर आदि उपस्थित थे।

भाई रंधीर सिंह नगर स्थित, ईद मिलाद उन नबी पर्व पर शोभा यात्रा का आयोजन सुन्नी नूरी जामा मस्जिद से निकाला गया। जो विभिन्न एरिया से गुजरते हुए जामा मजिस्द में संपन्न हुई। इस अवसर पर इमरान खान ,अनीश खान, मो.आलम, शिबू खान, जुगनू अली, फिरोज आलम, बाबा शान, लियाकत अली, हाजी आदि उपस्थित थे।

12 रबी-उल-अव्वल को लेकर जलूस निकाला

12 रबी-उल-अव्वल को लेकर शेरपुर ढंडारी नूरी से जुलूस निकाला गया। जो शेरपुर सब्जी मंडी से होते हुए मेन मार्केट शेरपुर ,नूरानी मस्जिद, मुस्लिम कॉलोनी, विश्वकर्मा कॉलोनी जमालपुर होते हुए से 100 फुटी रोड शेरपुर में संपन्न हुआ। इस अवसर पर मौलाना यूनूस खान ने सभी मुस्लिम भाइयों को पवित्र दिन पर इस्लाम धर्म के रूप मे दुनिया भर के सभी इंसानो को आपसी भाइचारे व शांति के लिए दुआ मांगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!