जालंधर, जेएनएन। पूर्व विधायक राजकुमार गुप्ता की रस्म किरया पर उन्हें पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़, विधायकों, विभिन्न राजनीति दलों, सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। कपूरथला रोड स्थित द्रोणा गार्डन में हुई श्रद्धांजलि सभा में पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा कि राजकुमार गुप्ता के निधान से पार्टी ने एक ऐसा नेता खो दिया, जो न सिर्फ जमीन से जुड़ा था, बल्कि राजनीति की गहरी समझ रखता था। उन्होंने कहा कि राजकुमार गुप्ता जैसे नेता कम ही होते हैं, जो अपनी बात पूरी बेबाकी से कहने का दम रखते थे। उनके निधन से सिर्फ गुप्ता परिवार या जालंधर को नुकसान नहीं हुआ है बल्कि यह कांग्रेस पार्टी को हानि हुई है।

श्रद्धांजलि सभा में शामिल होने के लिए विधायक सुशील रिंकू, विधायक राजिंदर बेरी, विधायक परगट सिंह विधानसभा सत्र में शामिल नहीं हुए। सांसद चौधरी संतोख सिंह, चेयरमैन तजिंदर सिंह बिंट्टू, पूर्व मंत्री अवतार हैनरी, मेयर जगदीश राजा ने भी स्व. राज कुमार गुप्ता की पत्नी पुष्पा गुप्ता, बेटे पूर्व पार्षद पवन गुप्ता, राजीव गुप्ता, पौत्र गितेश गुप्ता, भाई राम स्वरूप गुप्ता, सतीश गुप्ता, यशपाल गुप्ता, भतीजों सुदर्शन गुप्ता, दिनेश गुप्ता, राकेश गुप्ता, वरुण गुप्ता एवं अन्य पारिवारिक सदस्यों से संवेदना व्यक्त की।

श्रद्धांजलि सभा में चेयरमैन अमरजीत सिंह समरा, पूर्व मेयर जय किशन सैनी, पूर्व मेयर सुरेश सहगल, सीनियर डिप्टी मेयर सुरिंदर कौर, डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत सिंह बंटी, डायरेक्टर मेजर सिंह, पूर्व विधायक केडी भंडारी, भाजपा नेता मोहिंदर भगत, अकाली नेता गुरचरण सिंह चन्नी, पूर्व चेयरमैन बलजीत सिंह नीलामहल, पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर कमलजीत सिंह भाटिया, गुरनाम सिंह मुल्तानी, मनोज मनु, बब्बू नीलकंठ, सुभाष सूद, हरजिंदर सिंह लाडा, विपन चड्डा, सुशील कालिया, दिनेश ढल्ल, विजय दकोहा, लवली ग्रुप के वाइस चेयरमैन नरेश मित्तल, अमरजीत सिंह अमरी, अनमोल ग्रोवर, कुणाल शर्मा, सुखविंदर सिंह सुक्खा लाली, अमित सहगल, अर्जुन पप्पी, कुलदीप भुल्लर, परमजीत बल, पुष्पेंद्र लाली, सुरेंद्र चौधरी, टोनू जिंदल मौजूद रहे।

कई पदों पर सेवाएं दे चुके थे राजकुमार

राजकुमार गुप्ता का 11 फरवरी को निधन हो गया था। वह पांच बार पार्षद, एक बार विधायक, पंजाब स्माल इंडस्ट्री एक्सपोर्ट कारपोरेशन के चेयरमैन, जिला कांग्रेस कमेटी के प्रधान समेत कांग्रेस में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे। वह जिंदगी में एक बार भी चुनाव नहीं हारे थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!