जालंधर, [कमल किशोर]। खेल विभाग अब समय पर स्कूल खेल विंगों के ट्रायल लेने जा रहा है। एथलेटिक के ट्रायल की बात करें तो वह फटे ट्रैक पर ही होंगे। ऐसे में बड़ा सवाल है कि ट्रायल के दौरान खिलाड़ी को इंजरी हो जाती है तो कौन जिम्मेदार होगा। 

पिछले वर्ष ट्रायल देरी से होने के चलते स्पोर्ट्स विंग की सीटें भरी नहीं गई थी। सीटें कम होने के कारण सांसद संतोख सिंह चौधरी स्कूल का दौरा करने पहुंच गए थे। सांसद ने प्रिंसिपल से दाखिला कम होने के बारे में पूछा तो बताया गया कि ट्रायल में देरी होने की वजह से दाखिला कम हुआ था। खिलाडिय़ों ने अन्य कॉलेजों में दाखिला ले लिया था। ऐसे में वर्ष 2020-21 के लिए ट्रायल सात-आठ फरवरी को लिए जा रहे हैं।

खेल विभाग ने बिना तैयारी के ही स्कूल विंग के ट्रायल लेने की घोषणा कर दी है। जमीन से ट्रैक का लेवल सही नहीं है। बीते 24 दिसंबर को सांसद संतोख सिंह चौधरी ने ट्रैक जल्द ठीक करवाने का आश्वासन दिया था, लेकिन ट्रैक का कार्य अभी तक शुरु नहीं हुआ। हालांकि खेल विभाग ने एस्टीमेट बनाकर दे दिया है।

पिछले साल बहुत कम था दाखिला

स्पोर्ट्स स्कूल की कुल 120 सीटें हैं। इसमें 90 सीटें खाली थी। सिर्फ 30 ही भरी गई थी। कॉलेज में कुल 140 में से 125 सीटें खाली थीं। इस वर्ष समय पर ट्रायल होने के कारण विभाग सीटें फुल हो जाने का दावा कर रहा है।

सात-आठ फरवरी को होंगे ट्रायल

स्पोर्ट्स स्कूल में चल रही अलग-अलग खेल विंग में खिलाडिय़ों को रेजिडेंशियल तौर पर दाखिल करने के लिए ट्रायल सात व आठ फरवरी को विभिन्न स्टेडियम में होने जा रहे है। एथलेटिक्स, जिमनास्टिक, बाक्सिंग, वॉलीबॉल के ट्रायल स्पोटर्स स्कूल में होंगे। कुश्ती के ट्रायल हंसराज स्टेडियम में होंगे। फुटबाल के ट्रायल खालसा काॅलेज में होंगे। तैराकी के ट्रायल पांच अप्रैल को स्पोर्ट्स स्कूल के स्विमिंग पूल में लिए जाएंगे।

सांसद को दी है निर्माण कार्य की लिस्ट

जिला खेल अधिकारी गुरप्रीत सिंह ने कहा कि रेजीडेंशियल खिलाडिय़ों के ट्रायल सात व आठ फरवरी को होंगे।स्पोर्ट्स स्कूल में होने वाले निर्माण कार्य की लिस्ट बनाकर सांसद को सौंप चुके है। लिस्ट में फटा एथलेटिक्स ट्रैक भी शामिल था। पिछले वर्ष स्पोर्ट्स स्कूल में दाखिले का स्तर गिरा था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!