जालंधर, जेएनएन। गांव रंधावा मसंदा के रहने वाले 24 वर्षीय टिक-टॉक स्टार खुशविंदर सिंह उर्फ खुश रंधावा की मंगलवार को मौत हो गई। मंगलवार को उसने अपने घर में कोई जहरीली वस्तु निगल ली थी। इसके बाद उसके परिजनों ने उसे निजी अस्पताल में दाखिल करवाया था, वहां उसने दम तोड़ दिया। आत्महत्या का कारण एक लड़की के साथ दोस्ती बताई जा रही है। हालांकि परिजनों की ओर से ऐसी कोई शिकायत नहीं दी गई है।

सोशल मीडिया में खुश रंधावा के नाम से जाने जाते खुशविंदर को टिक-टॉक पर दो लाख 39 हजार से अधिक लोग फॉलो करते थे। उसने आत्महत्या करने से एक दिन पहले ही खानभैनी और कौर-बी के गाने नखरे वर्सेज गन्स और सिद्धू मूसेवाले के डॉयलॉग्स पर दो वीडियो डाली थीं। इन दोनो वीडियो को भी उसके अन्य वीडियो की तरह लोगों से बहुत प्यार मिला था। महज पांच दिन में ही एक वीडियो को 19 लाख और दूसरी वीडियो को 14 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है। उसके टिक-टॉक अकाउंट में 400 से अधिक वीडियोज हैं, जिन्हें 66 लाख से अधिक लाइक मिले हुए हैं।

आत्महत्या के पीछे लड़की!

पुलिस के मुताबिक खुशविंदर की मां जसविंदर कौर ने बताया कि उन्हें अंदाजा भी नहीं था कि उनका बेटा ऐसी परेशानी में चल रहा है, जिसके चलते उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया। हालांकि इलाके के लोगों और उसके दोस्तों के मुताबिक खुशविंदर की आत्महत्या के पीछे एक लड़की है। हालांकि परिजनों द्वारा ऐसा किसी तरह का बयान ना लिखवाने और मौके से किसी तरह का कोई सुसाइड नोट ना मिलने पर पुलिस ने मामले में महज सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई दर्ज की है।

मरने के बाद 54 हजार से 2.39 लाख पहुंचे फोलोवर्स...

मृतक खुश रंधावा पिछले आठ माह के अधिक समय से टिक-टोक पर एक्टिव था। इस बीच उसने 400 से अधिक वीडियो बना टिक-टोक पर अपलोड किए। इन वीडियोज पर उसे लाखों में लाइक्स मिलें और उसके फोलोवर्स भी 54 हजार के पार हो गए। अजीब बात यह हुई कि जिंदा रहते वह इतना लोकप्रिय नहीं हो सका, जितना मौत के बाद हो गया। मंगलवार को उसकी मौत की सूचना जैसे ही फैली महज 24 घंटे के भीतर उसके टिक-टॉक अकाउंट पर उसे एक लाख 94 हजार से अधिक और लोग फोलो करने लगे जिस के बाद उसके कुल फोलोवर्स की संख्या 2.39 लाख के पार पहुंच गई।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!