जालंधर, जेएनएन। झपटमारों के हाथ अब पुलिस के दामन तक भी पहुंच गए हैं। रविवार रात को जालंधर के ज्योति चौक के पास स्थित एक शाॅपिंग मॉल के बाहर जा रही महिला कांस्टेबल बलजीत कौर का पर्स छीन कर झपटमार फरार हो गए। यह वारदात वहां पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।

थाना चार की पुलिस को उच्चा सुराजगंज की रहने वाली कांस्टेबल बलजीत कौर ने बताया कि वह पुलिस लाइन में तैनात है। वह रविवार को किसी काम से बाहर गई थी। उसके पर्स में करीब 70 हजार रुपये थे। काम खत्म होने के बाद वो अपने घर पैदल ही जा रही थी। जैसे ही घर के पास पहुंची तो पीछे से बाइक पर दो युवक आए और उसके हाथ में पकड़ा पर्स झपट ले गए। पर्स में पैसों के अलावा एटीएम कार्ड और जरूरी दस्तावेज भी थे। एएसआइ मनजिंदर सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और सीसीटीवी फुटेज से आरोपितों की पहचान करने का प्रयास किया जा रहा है।

कोरोना के डर से खाली था बाजार, भीड़ होती तो नहीं होती वारदात

कांस्टेबल बलजीत कौर का पर्स जिस जगह पर छीना गया वहां पर अक्सर भीड़ होती है। रविवार को तो ज्यादा भीड़ रहती है। कोरोना वायरस के डर की वजह से पिछले कुछ दिनों से बाजारों में भीड़ कम हो रही है। रविवार को भी बाजार खाली होने की वजह से झपटमार आसानी से वहां से फरार हो गए। यदि आम दिनों की तरह भीड़ होती तो शायद झपटमारी की वारदात न होती। वारदात के बाद वहां पर सैर कर रहे मखदूमपुरा निवासी रणदीप सूरी ने बताया कि ज्योति चौक से नकोदर चौक तक की सड़क पर छीना-झपटी की कई वारदातें हो चुकी हैं। झपटमार शहीद ऊधम सिंह नगर की तरफ निकल जाते हैं, क्योंकि वहां पर कई रास्ते हैं और फरार होना आसान है। जहां वारदात हुई, वहां स्ट्रीट लाइट भी नहीं है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!