जागरण संवाददाता, जालंधर। श्री गुरु तेग बहादुर जी के बलिदान दिवस को लेकर गुरुद्वारा बाबा जीवन सिंह गढ़ा में समागम करवाया गया। प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष भूपिंदर पाल सिंह खालसा की अध्यक्षता में आयोजित समागम के दौरान जिले भर से पहुंचे रागी जत्थे के सदस्यों ने शबद गायन के साथ संगत को गुरु चरणों से जोड़ा। इस दौरान भाई बलजीत सिंह, भाई जसवीर सिंह, धीरज, डाक्टर सरबप्रीत कौर बजाज, डाक्टर सुखबीर कौर बजाज, बीबी निरंजन कौर, बीबी सतवंत कौर ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब की इलाही बाणी का उच्चारण किया।

इसके बाद भूपेंद्र पाल सिंह खालसा ने श्री गुरु तेग बहादुर जी के जीवन तथा उपदेशों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मतांतरण के विरोध तथा कश्मीरी हिंदुओं की रक्षा करने के कारण ही श्री गुरु तेग बहादुर जी को हिंद की चादर कहा जाता है।

भाई बलविंदर सिंह ने सिख मर्यादा तथा पंथक विचारों से अवगत करवाया। बीबी प्रिया को अखंड पाठ साहिब की सेवा करने पर सम्मानित किया गया। अरदास के बाद गुरु का अटूट लंगर वितरित किया गया। इस मौके पर मनजीत सिंह, तेजिंदर कौर, बीबी जोगिंदर कौर, महिंदर सिंह दुबई वाले, रणजीत सिंह, दलजीत सिंह वालिया, जसवीर सिंह, मनजीत कौर सहित सदस्य मौजूद थे।

यह भी पढ़ें - श्रीमद् भागवत कथा में मौजूद है मानव जीवन का सार : आचार्य पंकज

जासं, जालंधर। कथा व्यास आचार्य पंकज शर्मा ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा में इंसान के जीवन का सार छुपा है। श्रीमद् भागवत कथा का उच्चारण करने, ध्यानपूर्वक सुनने तथा इसके उपदेशों को जीवन में अपनाकर मोक्ष की प्राप्ति संभव है। श्री नव दुर्गा मंदिर अवतार नगर में स्त्री सत्संग सभा द्वारा आयोजित श्रीमद् भागवत कथा के दौरान उन्होंने विस्तार के साथ ज्ञान दिया। कथा का आगाज श्री गुरु वंदना के साथ किया गया। इसके उपरांत पंडित विजय डोगरा, पंडित विकास सकलानी, पंडित जीवन, पंडित रमन शर्मा, पंडित हैप्पी शर्मा, पंडित पंकज शर्मा तथा पंडित अनिल शर्मा ने विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ यज्ञ संपन्न करवाया।

आचार्य पंकज शर्मा ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण ने कुरुक्षेत्र के मैदान में केवल अर्जुन ही नहीं बल्कि समूचे संसार को नेक राह पर चलने का उपदेश दिया था। इस मौके पर उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं का अर्थ सहित उच्चारण किया। स्त्री सत्संग सभा से पुष्पा मल्होत्रा, संतोष रानी, नीना नागपाल, शशी मल्होत्रा, साक्षी, विजय, रेनू मल्होत्रा, मंजू शर्मा, रेनू अग्रवाल, अनीता खुल्लर, कविता वर्मा, विमला, सोनू, मीनू, रजनी, संतोष रानी, चांद कक्कड़, सुरभि, पूजा शर्मा, मनीषा, अलका, सोनिया, बलजिंदर कौर व अनुराधा अरोड़ा ने एक के बाद एक कई मनमोहक भजन प्रस्तुत किए। आरती पूजा के उपरांत भंडारे का आयोजन किया गया।

इस मौके पर पार्षद कमला ढल्ल, हंस राज ढल्ल, अश्वनी मल्होत्रा , अजय अग्रवाल, प्रेमी ढल्ल, रिशु, रज्जू, आर्यन धीमान, कृष्णा , पंडित विजय डोगरा, पंडित पाठक,  रमेश शुर, सुदेश शुर, लविश, लव, कुश ककड़, पुलकित, प्रांशु शर्मा , प्रणव शाण्डिल्य, कृष्णा शर्मा सहित सदस्य मौजूद थे।

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट