राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। पंजाबी गायक शुभदीप सिंह उर्फ सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में एक और बड़ा खुलासा हुआ है। मूसेवाला अपने गानों हथियारों के नामों का जिक्र करते थे। अब सामने आया है कि उनकी हत्या करने में गिरफ्तार शूटरों ने उन्हीं का प्रयोग किया था।

हाल में दिल्ली से शूटर अंकित सेरसा की गिरफ्तारी के बाद ये बात सामने आई है। सेरसा के मोबाइल से जो वीडियो मिले हैं उनसे स्पष्ट है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या में उन्होंने एके-47, जर्मनी निर्मित हेकलर एंड कोच की पिस्टल, आस्ट्रिया निर्मित ग्लाक-30 पिस्टल और जिगाना पिस्टल का उपयोग किया। 

ये वही हथियार हैं जिनका जिक्र मूसेवाला ने अपने गानों में किया है। मूसेवाला ने खुद पर आ‌र्म्स एक्ट का केस दर्ज होने के बाद जो गीत रिलीज किया था, उसमें एके-47 असाल्ट राइफल का जिक्र किया था। एक अन्य गाने में ग्लाक पिस्टल का जिक्र किया है।

आखिरी तस्वीर में कनपटी पर पिस्टल लगाए दिखे थे मूसेवाला

गानों में जिक्र करने के अलावा सिद्धू मूसेवाला कभी पिस्टल तो कभी एके-47 के साथ फोटो भी शेयर करते थे। ट्विटर पर 10 मई को उन्होंने अपनी जो आखिरी तस्वीर शेयर की थी, उसमें भी वे कनपटी पर पिस्टल लगाए दिख रहे थे। बता दें कि गानों में हथियारों के इस्तेमाल को लेकर मूसेवाला पर पुलिस ने केस भी दर्ज किया था।

बता दें कि 29 मई को एक दर्जन से ज्यादा शूटरों ने मानसा के गांव जवाहरके में सिंगर सिद्धू मूसेवाला को घेरकर उनकी हत्या कर दी थी। सिद्धू उस समय गांव मूसा स्थित अपने घर से महिंद्रा थार में बिना सिक्योरिटी के दो दोस्तों के साथ निकले थे। तभी रेकी कर रहे संदीप केकड़ा नाम के आरोपित ने गैंगस्टरों को खबर कर दी कि सिद्धू मूसेवाला अपने घर से निकल गया है और उनके साथ कोई सिक्योरिटी गार्ड नहीं हैं।  

शूटर अंकित सेरसा ने दोनों हाथों से मारी थी मूसेवाला को गोलियां 

इसके बाद रास्ते में दो कारों में सवार शूटरों ने सिद्धू मूसेवाला का पीछा किया और गांव जवाहरके में थार के पिछले टायर में गोली मारकर सिद्धू मूसेवाला को घेर लिया। इसके बाद ताबड़तोड़ फायरिंग करके मूसेवाला की हत्या कर दी गई। पुलिस जांच में सामने आया है कि सबसे कम उम्र 19 साल का अंकित सेरसा ने मूसेवाला को सबसे पास से दोनों हाथों में पिस्टल के साथ गोलियां मारी थी।     

Edited By: Pankaj Dwivedi