जागरण संवाददाता, जालंधर : पूर्व मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता मनोरंजन कालिया ने कहा कि श्री हरिमंदिर साहिब सभी का साझा धार्मिक स्थल है। यहां सभी धर्मो के लोग सिर झुकाते हैं। कई हिदू घरों में बड़े बेटे को सिख सजाने की परम्परा आज भी कायम है। यही कारण है कि काला दौर झेलने के बावजूद हिदू-सिख भाईचारे पर आंच नहीं आई और पंजाबियों ने अलगाववाद व खालिस्तान की मांग को नकार दिया। जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों को ऐसी कोई बात नहीं कहनी चाहिए, जिससे पंजाब के अमन को खतरा हो। अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने खालिस्तान की मांग को जायज ठहराकर पंजाबियों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। ऐसी बातें करने से पंजाब में अमन-कानून की बनी स्थिति पर आघात लगता है। शराब तस्करी व बीज घोटाले की सीबीआइ जांच हो: अरोड़ा

जासं, जालंधर : 'पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह द्वारा शराब की अवैध तस्करी की जांच के लिए एसआइटी गठित करने और जांच की टीम का नेतृत्व सरकार के जेल संसाधन मंत्री सुखबिदर सिंह सरकारिया को देने से यह सिद्ध हो गया है कि कैप्टन सरकार उक्त मामले की लीपापोती करने पर तुली हुई है।' ये बात भाजपा के पंजाब प्रवक्ता अमित अरोड़ा कही। उन्होंने कहा कि इससे किसानों के साथ बहुत बड़ा धोखा हुआ है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि शराब की अवैध तस्करी व बीज घोटाले की जांच केंद्रीय एजेंसियों सीबीआइ अथवा ईडी से करवाई जाए, ताकि इस तरह के धंधे से जुड़े बड़े मगरमच्छों का चेहरा बेनकाब हो सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!