जागरण संवाददाता, जालंधर : जिस तरह चुनाव से ठीक चार दिन पहले बठिंडा में विस्फोट हुआ उससे साफ है कि पंजाब में ऐसी शक्तियां बैठी हैं, जो पंजाब को फिर से पीछे धकेलना चाहती हैं। चुनाव से पहले इस तरह का विस्फोट सीधे-सीधे लोकतंत्र को चुनौती है। ये बातें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने बुधवार को यहां प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते कहीं।

उन्होंने कहा कि पंजाब में सत्ता पाने के लिए आप कुछ भी कर सकती है। दिल्ली में सत्ता में रहते हुए आप आम लोगों के लिए कुछ नहीं कर पाई, इसलिए अब वह पंजाब में अपना डेरा जमा यहां के लोगों को गुमराह करने में लगी हुई है। खुर्शीद ने कहा कि पंजाब को आतंकवाद के अंधेरे से बड़ी मुश्किल से निकाला गया था, लेकिन अब मौजूदा सरकार ने ड्रग्स में धकेल पंजाब को तबाह करके रख दिया है। ड्रग्स व आतंकवाद का बहुत करीबी रिश्ता है, इसलिए ड्रग्स की लड़ाई हमें जीतनी है। कैप्टन अमरिंदर सिंह पहले ही संकल्प ले चुके हैं कि चार सप्ताह में इस मामले को समाप्त करेंगे। चाहे इसके लिए नए कानून बनाने पड़े।

बजट को लेकर उन्होंने कहा कि इसमें वित्त मंत्री ने एक भी शब्द नौकरियों के बारे में नहीं बोला। पिछले बार कांग्रेस की हार का कारण पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पिछली बार कांग्रेस ओवर कांफिडेंस में हार गई, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। इस समय पंजाब को ऐसी सरकार की जरूरत है, जो फिर से इंडस्ट्री को चालू कर सके, रोजगार दे सके और इनफास्ट्रक्चर स्थापित करने के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बना सके। ऐसी सरकार नहीं चाहिए, जिस पर 38 हजार करोड़ रुपये का फूड स्केम है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!