जागरण संवाददाता, जालंधर

जालंधर सेंट्रल हलके से टिकट की दावेदारी को लेकर नाराज हुए मेयर जगदीश राज राजा और उनके पार्षद साथी लगातार मीटिग के बावजूद राजिदर बेरी के खिलाफ रणनीति बनाने में नाकाम रहे हैं। अभी तक कोई भी फैसला नहीं लिया जा सका है और मंगलवार को एक बार फिर मीटिग होगी। उम्मीद है कि इस मुद्दे का कोई न कोई हल निकल आएगा।

लगातार तीसरे दिन पार्षद गुरविदर सिंह बंटी नीलकंठ के अवतार नगर आफिस में हुई मीटिग में कई पार्षदों ने यह बात रखी कि अगर वह इसी तरह खुला विरोध करते रहे तो राजिदर बेरी विधानसभा चुनाव जीतने के बाद आगामी नगर निगम चुनाव में उनकी टिकट भी काट सकते हैं। इस वजह से कोई भी पार्षद खुले विरोध का खतरा मोल नहीं लेना चाहता। मीटिग में यह बात भी रखी गई कि अगर राजिंदर बेरी के साथ चलना है मजबूरी भी है तो पार्टी हाईकमान किसी बड़े नेता को भेजकर मामला हल करवाए। पार्षदों ने एक बार फिर मेयर जगदीश राज राजा पर ही फैसला छोड़ा है और कहा है कि अब इसमें और देरी नहीं होनी चाहिए। पार्षद मनमोहन राजू ने कहा कि सभी पार्टी से बंधे हैं और उम्मीद है कि मंगलवार को सकारात्मक हल निकल आएगा। उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी से बाहर नहीं है और कांग्रेस के लिए ही चुनाव में काम करना है। बैठक में मेयर जगदीश राज राजा, वर्किंग प्रेसिडेंट विजय दकोहा, महिला कांग्रेस की नेशनल कोआर्डिनेटर डा. जसलीन सेठी, पार्षद गुरविदर सिंह बंटी नीलकंठ, मनमोहन राजू, बब्बी चड्ढा, पवन कुमार व मोहिदर सिंह गुल्लू मौजूद रहे। बेरी ने नाराज नेताओं को मनाने का काम तेज किया

नाराज नेताओं को मनाने का काम राजिदर बेरी ने और तेज कर दिया है। मेयर जगदीश राजा, कांग्रेस नेता मोहिदर सिंह गुल्लू और मनमोहन राजू से मिल चुके विधायक बेरी ने रविवार शाम और सोमवार सुबह वर्किग प्रेसिडेंट विजय दकोहा, पार्षद गुरविदर सिंह बंटी नीलकंठ व पार्षद बब्बी चड्ढा से मुलाकात करके उनकी नाराजगी दूर करने की कोशिश की। वहीं बेरी की पत्नी पार्षद उमा बेरी ने महिला कांग्रेस की नेशनल कोआर्डिनेटर एवं पार्षद डा. जसलीन सेठी से मुलाकात करके अपील की है कि वह चुनाव में सहयोग करें और कांग्रेस के हाथ मजबूत करें। प्रधान और पर्यवेक्षक भी हुए सक्रिय

निवर्तमान विधायक राजिदर बेरी से नाराज चल रहे नेताओं को मनाने के लिए जिला कांग्रेस प्रधान बलराज ठाकुर और केंद्र से आए पर्यवेक्षक गोबिद शर्मा भी सक्रिय हो गए हैं। इसे लेकर प्रधान और पर्यवेक्षक ने चर्चा की है। बागी गुट के करीबी नेताओं से भी बात की गई है। बलराज ठाकुर ने कहा कि पूरे मामले को एक-दो दिन में हल कर लेंगे। नाराजगी भी दूर की जाएगी और सबको साथ लेकर भी चलेंगे। इस पूरे प्रकरण की जानकारी पार्टी हाईकमान को भी दी जा रही है।

Edited By: Jagran