मनुपाल शर्मा, जालंधर। पंजाब विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद पहली बार प्रदेश के दौरे पर आए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमृतसर से जालंधर के लिए रवाना हो गए हैं। इससे पहले राहुल गांधी ने सुबह विमान से दिल्ली से आने के बाद श्री हरिमंदिर साहिब में माथा टेका। वे दुर्ग्याणा माता मंदिर और श्री राम तीर्थ क्षेत्र भी गए।जालंधर रवाना होने से पहले राहुल गांधी ने पंजाब भर से पहुंचे कांग्रेसी प्रत्याशियों के साथ उनकी बसों में मुलाकात की। राहुल गांधी अमृतसर के श्री गुरु राम दास जी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सीधे दरबार साहब पहुंचे थे, जहां पंजाब भर से अमृतसर पहुंचे प्रत्याशी पहले से ही मौजूद थे।

दरबार साहब में नतमस्तक होने के बाद राहुल गांधी ने दुर्ग्याणा मंदिर तक एक बस में प्रत्याशियों के साथ मुलाकात की। उसके बाद दुर्ग्याण मंदिर से रामतीर्थ तक दूसरी और फिर तीसरी बस में प्रत्याशियों के साथ यात्रा की अमृतसर के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम को निपटाने के बाद राहुल गांधी अमृतसर से दोपहर बाद लगभग 3:45 बजे जालंधर के लिए रवाना हो गए थे। अमृतसर पहुंचे कांग्रेसी प्रत्याशी अब अपने वाहनों में सवार होकर जालंधर पहुंच रहे हैं। 

जालंधर में राहुल गांधी के आगमन की प्रतीक्षा करते हुए कांग्रेस समर्थक एवं प्रशंसक।

बता दें कि जालंधर के मिठापुर के वाइट डायमंड रिजार्ट में राहुल गांधी कांग्रेस की पंजाब फतेह वर्चुअल रैली को संबोधित करेंगे। यहा संबोधन साढ़े तीन से साढ़े चार बजे के बीच होना था लेकिन फिलहाल इसमें देरी हो रही है।राहुल गांधी का वर्चुअल संबोधन सुनने के लिए जालंधर शहरी एवं देहात क्षेत्रों में अलग-अलग जगह पर एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। अब राहुल गांधी के आगमन एवं उनके संबोधन संबोधन शुरू होने का इंतजार किया जा रहा है।

बता दें कि कुछ महीने पहले ही कांग्रेस ने पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को पद से हटाकर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री पद से नवाजा है। वह पंजाब के पहले दलित सीएम हैं। राजनीतिक अंदाजा लगाया जा रहा है कि जालंधर से अपनी चुनावी मुहिम शुरू करने वाले राहुल गांधी की संबोधन के दौरान दोआबा के दलित वोट बैंक पर नजर रहेगी। 

Edited By: Pankaj Dwivedi