जासं, फिरोजपुर। कारपेंटर की बेटी नैंसी ने पीएसईबी 10वीं में पूरे पंजाब में टाप करके अपने परिवार और फिरोजपुर जिले का नाम पूरे पंजाब में रोशन किया है। नैंसी रानी ने बताया कि उसने कभी सोचा भी न था कि वह पूरे राज्य में पहले स्थान पर आएगी। नैंसी 650 में से 644 अंक हासिल किए हैं। 15 वर्षीय नैंसी की मां संदीप घर में कपड़े सिलती हैं जबिक पिता श्री रामकृष्ण कारपेंटर हैं। दादा बाऊ राम ईंटो के भट्टे पर मजदूरी करते हैं। नैंसी की सफलता की जैसे ही सूचना मिली तो मां संदीप की आंखों से खुशी के आंसू छलक उठे।

जैसे ही नैंसी के पूरे पंजाब में पहले स्थान पर आने की खबर आई तो परिवार में बधाई देने वालों का तांता लग गया। नैंसी के स्कूल की प्रिंसिपल प्रवीण ने बताया कि वह शुरुआती दौर से ही स्कूल की होनहार छात्रा है। इतने आठवीं कक्षा में नेशनल मींस कम मेरिट स्कॉलरशिप में भी जिले में तीसरा स्थान हासिल किया था और हर बार क्लास में पहले दर्जे पर आती थी।

अध्यापिका बनना चाहती है नैंसी

नैंसी ने बताया कि 24 घंटे में वह सिर्फ 3 से 4 घंटे ही आराम करती थी जबकि पूरा समय पढ़ने में लगाती थी।

मन में अध्यापक बनने का सपना संजोए नैंसी मैथ्स और इंग्लिश की अध्यापिका बनकर राष्ट्र निर्माण में अहम भूमिका निभाना चाहती है।

कपड़े सिलने में मां की मदद करती है नैंसी

नैंसी का बड़ा भाई साहिल 12वीं क्लास में पढ़ता है और छोटा भाई धीरज आठवीं का विद्यार्थी है। मां संदीप ने बताया कि उनकी बेटी गृह कार्य के साथ-साथ उसके कपड़े सिलने के कार्य में भी उसकी मदद करती थी। नैंसी ने घर में दर्जनों की संख्या में मोमेंटो और मेडल एकत्रित कर रखे हैं।

Edited By: Pankaj Dwivedi