जासं, जालंधर। यहां के थाना मकसूदां पुलिस ने कथित तौर पर एक युवक को नशा तस्करी के मामले में घर से उठाया और वह फिर थाने से गायब हो गया। बात घरवालों को पता चली तो उन्होंने रात 9 बजे थाने के बाहर जाम लगा दिया। उन्होंने आशंका जताई है कि पुलिस ने बेटे के साथ कुछ गलत किया है। उनका दावा है कि थाने में युवक को करंट भी लगाया गया था, जिससे वह बेसुध हो गया था। इधर, पुलिस ने चुप्पी साध ली है। एसएसपी देहात ने कहा है कि युवक पुलिस के पास नहीं है लेकिन उसे खोज कर परिवार के हवाले कर दिया जाएगा।

जालंधर के मकसूदां थाने के बाहर सड़क पर बैठकर धरना देते हुए आरोपित युवक के परिजन।

लापता युवक नंगल-सलेमपुर का 28 वर्षीय राजकुमार है। उसके छोटे भाई रिंकू ने बताया कि सुबह उनके घर थाना मकसूदां पुलिस आई थी। पुलिस ने उन्हें कहा था कि उन्होंने पांच किवंटल चूरा पोस्त पकड़ा है। आरोपित के मुताबिक नशे की खेप राजकुमार ने मंगवाई थी। इस संबंध में वह पूछताछ के लिए राजकुमार को साथ ले गए। पुलिस ने उन्हें कहा था कि शाम को पूछताछ के बाद राजकुमार को छोड़ देंगे, लेकिन देर शाम तक वह घर नहीं लौटा। रिंकू ने कहा कि उसे पूरा यकीन है कि पुलिस ने भाई के साथ कुछ गलत किया है और इसी कारण कुछ बता नहीं रहे।

जाम और विरोध प्रदर्शन के दौरान थाने में जमा भीड़।

जल्द मिल जाएगाः एसएसपी

इस संबंध में देहात पुलिस के एसएसपी नवजोत सिंह माहल ने बताया कि उक्त युवक को पुलिस ने पूछताछ के लिए जरूर उठाया था, लेकिन उसके साथ कुछ गलत नही किया। फिलहाल युवक पुलिस के कब्जे में नहीं है, लेकिन उन्होंने दावा किया वीरवार सुबह तक वह मिल जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!