जालंधर, जेएनएन। मोहाली पुलिस ने आईपीएल की पूर्व टीम गुजरात लायंस के सीईओ रहे व रिटायर्ड कर्नल के साथ 80 लाख रुपए की ठगी करने के मामले में भगोड़ा चल रहे उनके बिजनेस पार्टनर गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान डीएलएफ फेस-5, सेक्टर  54, गुरुग्राम निवासी अरुण भारद्वाज के रूप में हुई है।

आरोपित बुधवार दोपहर 1 बजे के करीब अपनी पत्नी के साथ किसी अन्य मामले में स्थानीय अदालत में पेशी पर आया था। इस दौरान मोहाली क्राइम ब्रांच पुलिस अदालत के बाहर ट्रैप लगाकर उसे काबू दबोच लिया। अरोपित अरुण और उसकी पत्नी ने पुलिस से बचने के लिए बीच सड़क शोर-शराबा भी किया। गहमागहमी के बीच कोर्ट परिसर के सामने की रोड पर लंबा जाम लग गया। मौके पर स्थानीय पुलिस पहुंचने के बाद मोहाली पुलिस गैर-अधिकारिक रूप से आरोपित को काबू कर अपने साथ ले गई।

ये है पूरा मामला


आईपीएस सोसायटी चंडीगढ़ निवासी रिटायर्ड कर्नल और आईपीएल की पूर्व टीम गुजरात लायंस के सीईओ रहे अरविंदर सिंह ने एसएसपी दफ्तर, मोहाली में शिकायत दी थी कि वह वर्ष 2014 में आईवी ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल, सेक्टर-71 मोहाली में बतौर सीईओ जॉब करते थे। इस दौरान उन्होंने उसी अस्पताल के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ निजी कंपनी शुरू करने का प्लान बनाया था। प्लान के तहत सेरा क्यू लैब्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी की शुरुआत की गई। आरोपित को भी बतौर कंपनी के चौथे पार्टनर के रूप में शामिल किया गया।

उन्होंने आरोप लगाया था कि कुछ समय के भीतर ही उनसे कंपनी के बैंक खातों से किसी भी तरह की ट्रांजैक्शन करने की अथॉरिटी छीन ली गई। इसके बाद अन्य तीन पार्टनरों ने उन्हें अंधेरे में रखते हुए करीब 80 लाख रुपये का चूना लगा दिया।

अन्य पार्टनरों को पुलिस ने दी क्लीन चिट


मामले में पुलिस ने अरुण भारद्वाज को आरोपित पाया और अन्य दो पार्टनर को क्लीनचिट दे दी। इसके बाद एसएएस नगर (मोहाली) पुलिस के थाना फेस वन में आरोपित अरुण भारद्वाज के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 465, 467,468, 471 के तहत केस दर्ज किया गया। मामले में आरोपित पुलिस की पकड़ से फरार चल रहा था। अदालत ने नोटिस जारी करते हुए उसे भगोड़ा करार दिया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pankaj Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!