जालंधर, जेएनएन। वार्ड नंबर 78 के शाम नगर में सीवरेज की छोटी पाइप डाली जा रही थी। इस पर क्षेत्र निवासियों ने विरोध कर दिया। इसके बाद नगर निगम को सीवरेज लाइन बिछाने का काम रोकना पड़ा। हालांकि बाद में निगम को छोटी पाइप निकालकर बड़ी पाइपें डालनी पड़ीं।

मोहल्ले के गीता रानी, राजिंदर कौर, गुरमीत कौर, गौरव, राकेश, सोनू ने कहा कि आठ इंच की पाइप डालने से सीवरेज में ब्लॉकेज रहेगी और अगले वर्षों में इसे फिर बदलना पड़ेगा। इसलिए निगम अभी से 12 इंच की पाइप लाइन डाले। निगम मुलाजिमों को विरोध के चलता काम रोकना पड़ा। उन्होंने इसकी जानकारी निगम के एसई ओएंडएम सतिंदर कुमार को दी। इस पर उन्होंने टीम को निर्देश दिया कि नई लाइन 12 इंच की ही डाली जाए। इसके बाद ठेकेदार ने आठ इंच की पाइप उखाड़ कर 12 इंच की पाइप डालने का काम शुरू करवाया। एसई ने यह काम एक सप्ताह में पूरा करने की हिदायत दी है। उन्होंने चेतावनी दी कि इलाके की किसी भी फैक्ट्री के सीवर का कनेक्शन नई पाइप लाइन में न किया जाए।

 

शाम नगर में सीवर डालने का काम चल रहा है। इस दौरान आठ इंच की पाइप डालने का लोगों ने विरोध कर दिया। बाद में निगम की ओर से 12 इंच की पाइपें डालने के आश्वासन पर लोग शांत हुए।

वार्ड 46 में एक माह से सीवरेज जाम

वार्ड 46 के डॉ. आंबेडकर नगर में एक महीने से सीवरेज जाम है। इससे लोग परेशान हैं। पार्षद पति कुलदीप मिंटू ने भी लोगों की नाराजगी को जायज ठहराते हुए कहा कि एक महीने में कई बार निगम अफसरों को कहा गया, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही। कुलदीप ने कहा कि सरकार उनकी है लेकिन फिर भी काम नहीं हो रहा। उन्होंने कहा कि अगर लोगों को बीमारी की मार झेलनी पड़ती है तो इसके लिए निगम ही जिम्मेदार होगा। मोहल्ला निवासी नरिंदर कुमार, रेखा, सपना, चंदर शेखर, पवन, परुषोत्तम, स्वर्ण सिंह, राज कुमार, प्रवेश कुमार, जोगिंदर पाल, रमेश कुमार, नीलम, बबली, गोगी, सुरेश कुमारी ने कहा कि रोजाना गलियों में सीवर का गंदा पानी खड़ा रहता है। बदबू के कारण घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो रहा है।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!