जालंधर [सुक्रांत]। कोरोना वायरस के चलते लगे क‌र्फ्यू में लोग जहां पर राशन, सब्जी, दूध, फल के लिए तरस रहे हैं, वहीं कुछ लोग जिला प्रशासन की तरफ से सप्लाई की इजाजत मिलने के बाद इनकी कालाबाजारी करने लगे हैं। शुक्रवार को क‌र्फ्यू के पांचवें दिन संसारपुर में रेहड़ी पर सब्जी ले जाकर महंगे दाम पर बेचने वाले संसारपुर निवासी संजीव के खिलाफ धारा 188 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। इधर, पुलिस ने कालाबाजारी की शिकायत करने के लिए विभिन्ना थानों के नंबर जारी किए हैं। 

डीसीपी गुरमीत सिंह ने बताया कि संजीव अपनी रेहड़ी पर तीस रुपये किलो वाले टमाटर सौ रुपये किलो में बेच रहा था। वहीं 25 रुपये किलो वाले आलू पचास रुपये में बेच रहा है और साथ ही रेहड़ी पर भीड़ इकट्ठा कर खड़ा था। एक जागरूक नागरिक ने पुलिस को फोन किया, जिसके बाद थाना कैंट की पुलिस मौके पर पहुंची और संजीव को गिरफ्तार कर थाने में ले आई। वहीं देहात पुलिस ने भी क‌र्फ्यू का उल्लंघन करने पर एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया।

उधर, कई मोहल्लों में स्थित राशन की दुकान वालों ने अपने घर के अंदर वाले रास्ते से दुकानें खोल रखीं और 240 रुपये किलो वाली आटे की थैली 350 रुपये में बेची। प्रशासन की तरफ से राशन, सब्जी इत्यादि की सप्लाई के लिए जो नंबर जारी किए गए हैं, उनमें से ज्यादातर बंद थे। कई इलाकों में बारिश की वजह से सब्जी दूध की सप्लाई बाधित हुई लेकिन कुछ घरों तक पहुंच भी हुई।

राशन न मिलने पर भड़के लोग, हंगामा

संगत सिंह नगर में सुबह राशन न मिलने पर लोग भड़क गए और जमकर हंगामा हुआ। जानकारी के मुताबिक डोर टू डोर सप्लाई के लिए राशन पहुंचा था लेकिन वहां पर भीड़ इकट्ठी हो जाने के चलते राशन नहीं बांटा गया। इसके बाद वहां पर लोग भड़क गए और राशन देने का दबाव बनाने लगा। काफी देर तक हंगामा होता रहा लेकिन बाद में एक के बाद एक को राशन देने की बात पर राशन बांटा गया।

तिलक नगर में मिले विदेश से आए लोग, घरों में किए बंद

शुक्रवार को वार्ड नंबर 40 में विदेश से आए लोगों की सूचना मिलते ही मेडिकल टीम और इलाका पार्षद वरेश मिंटू भगत और आशा वर्कर परमजीत कौर मौके पर पहुंचे। बीते कुछ दिनों में यहां पर न्यूजीलैंड, दुबई और आस्ट्रेलिया से लोग आए थे जिनको घरों के अंदर ही क्वारंटाइन कर दिया गया और उनके घरों के बाहर स्किटर भी चिपका दिए गए। पार्षद वरेश मिंटू ने इलाके के अन्य लोगों से भी अपना चेकअप करवाने का अनुरोध किया। वहीं सिविल सर्जन डॉ. गुरिंदर कौर चावला ने बताया कि जो लोग बाहर से आए हैं, उनके सैंपल ले लिए गए हैं और जांच के लिए भेज कर सभी को घरों में रहने के लिए कहा गया है।

बारिश में भी पुलिस कर रही ड्यूटी, सड़कों पर आवारागर्दी करते रहे लोग

शुक्रवार को शहर में पूरा दिन बारिश होती रही और पुलिस सड़कों पर अपनी ड्यूटी के लिए तैनात रही। इसके बावजूद कुछ तमाशबीन लोग अपनी व दूसरों की जिंदगी को खतरे में डाल कर सड़कों पर घूमते रहे। पुलिस ने सभी को हाथ जोड़ कर घरों के अंदर रहने के लिए कहा।

देहात और शहरी पुलिस ने बांटा गरीबों में लंगर

बारिश के दौरान मोहल्लों में जाने वाली दूध, राशन की सप्लाई बाधित रही लेकिन शहरी और देहाती पुलिस ने कई जगह पर लंगर लगा कर जरूरतमंदों को वितरित किया। डीसीपी नरेश डोगरा और थाना आठ के प्रभारी सुखजीत सिंह ने गुज्जा पीर रोड पर लंगर लगा कर जरूरतमंदों को वितरित किया। वहां पर खड़े एक दंपत्ति को मास्क देकर कोरोना से बचने के लिए जागरूक किया। वहीं थाना चार की पुलिस ने भी मखदूमपुरा में जाकर लोगों के बीच लंगर वितरित किया। उधर, देहात पुलिस ने अलग अलग जगह पर 35 सौ पैकेट खाने के बांटे गए। इसके अलावा पांच हजार राशन किट, जिसमें पांच किलो आटा, एक किलो चीनी, दो ग्राम चाय पत्ती, डेढ़ किलो दाल, डेढ़ किलो चावल, एक किलो नमक सहित अन्य सामान था, बांटी गई। एसपी रविंदर पाल सिंह संधू ने बताया कि जब तक क‌र्फ्यू जारी रहेगा तब तक पुलिस गरीब परिवालों तक राशन इत्यादि पहुंचाने का काम जारी रखेगी।

मजदूरों को मिलेगी पूरी मजदूरी, पुलिस कमिश्नर ने किया ऐलान

पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने शुक्रवार को शहर के कई उद्योगपतियों के साथ बैठ की और उनको अपने मजदूरों को बनती पगार देने के लिए कहा ताकि गरीब लोग अपनी जरूरतें पूरी कर सकें। उन्होंने कहा कि करीब दो हजार मजदूरों को करीब 95 लाख का भुगतान करवाना सुनिश्चित करवाया गया है। सारे उद्योगपतियों ने पुलिस कमिश्नर को आश्वासन दिया कि वह अपनी लेबर को बनती मजदूरी अवश्य देंगे।

कालाबाजारी की यहां करें शिकायत

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!