जालंधर, जेएनएन। सफाई मुलाजिमों की हड़ताल के तीसरे दिन मेयर जगदीश राजा ने एक बार फिर कड़ा रुख अपनाया है। यूनियनों के निगम कांप्लेक्स में घुस कर ऑफिस बंद करवाने पर मेयर ने नाराजगी जताई और हड़ताल के दौरान गैरहाजिर रहने वाले मुलाजिमों की गैरहाजरी लगाने के आर्डर दिए हैं। मेयर ने इसके बाद डंपों की सफाई भी तेज करवा दी। मेयर ने विधायकों को साथ लेकर पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ से इसे मुद्दे पर मीटिंग की और उन्हें कहा है कि 160 सीवरमैन शहर की जरूरत के हिसाब से रखे गए हैं और इन्हें हटाया नहीं जाएगा।

मेयर, विधायक राजिंदर बेरी ने कहा कि अगर सरकार कोई पॉलिसी बना कर इन्हें निगम के जरिए डीसी रेट पर रखती है तो उन्हें कोई एतराज नहीं है। लेकिन इसे मुद्दा बनाकर शहर में सफाई व्यवस्था ठप करने की इजाजत यूनियनों को नहीं दी जाएगी। पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा कि वह लोकल बॉडी मंत्री से इस संबंध में बात करेंगे।

मुलाजिमों ने विधायक राजिंदर बेरी का घर घेरा, पुतला जलाया

इस बीच पंजाब सफाई मजदूर फेडरेशन के प्रधान चंदन ग्रेवाल के नेतृत्व में सैकड़ों मुलाजिमों ने विधायक राजिंदर बेरी के सेंट्रल टाउन स्थित घर का घेराव किया और पुतला फूंका। हालांकि उस समय विधायक और उनकी पत्नी घर नहीं थीं लेकिन विधायक की मां घर पर ही थीं। पुलिस सुरक्षा कम होने के कारण मुलाजिम बेरी के घर के पास तक पहुंच गए थे। मंगलवार को कई दौर की मीटिंग के बाद हड़तालियों से समझौते के उम्मीद बन गई थी लेकिन अब फिर से टकराव खड़ा हो गया है।

गैरहाजिरी पर बोले मेयर - रोज का तमाशा नहीं चलेगा

यूनियनों ने जब निगम कंप्लेक्स में ऑफिस बंद करवाने शुरू किए तो फील्ड में डंपों की जांच कर रहे मेयर जगदीश राजा वापस लौट आए और आते ही थर्ड फ्लोर स्थित प्रॉपर्टी टैक्स, तहबाजारी विभाग में जांच शुरू करवा दी। मेयर ने सभी ब्रांचों से मुलाजिमों से पांच मिनट में उनके दफ्तर में पहुंचने के लिए कहा। मुलाजिमों की गैरहाजरी पर मेयर ने कहा कि यह रोज का तमाशा बन गया है। जो भी मुलाजिम गैरहाजिर है उस पर कार्रवाई की जाए। इसके बाद सभी ब्रांचों के मुलाजिम एक-एक करके मेयर ऑफिस में गए और सब की हाजरी खुद जांची। मेयर ने कहा कि जो लोग फील्ड में हैं उनकी प्रोग्रेस रिपोर्ट दी जाए कि वास्तव में उन्होंने फील्ड में क्या काम किया।

रैग पिकर्स को आखरी चेतावनी, काम पर न लौटे तो पक्की छुट्टी

मेयर जगदीश राज राजा ने घरों से कूड़ा इकट्ठा करने वाले रैग पिकर्स को आखरी चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर वह काम पर ना लौटे तो उन्हें भविष्य में कभी कूड़ा उठाने का काम नहीं करने दिया जाएगा। मेयर ने कहा कि बेशक हड़ताल कर रही यूनियनों से समझौता हो जाए लेकिन रैग पिकर्स से कोई समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि रैग पिकर्स हर घर से फीस लेकर कूड़ा उठाते हैं और उनका इस हड़ताल से कोई लेना-देना नहीं है। मेयर ने कहा कि रैग पिकर्स वीरवार को काम पर नहीं लौटते हैं तो हर वार्ड में नए रैग पिकर्स से काम करवाया जाएगा।

मेयर ने कहा कि शहर की जरूरत को देखते हुए आउटसोर्सिंग पर मुलाजिम रखे गए हैं। अगर पंजाब सरकार पक्की भर्ती की प्रक्रिया शुरू करती है तो जालंधर में भी यह काम जल्द शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि पंजाब की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है, ऐसे में पक्की भर्ती शुरू नहीं हो पा रही है।

शहरवासियों से मांगा सहयोग

उन्होंने लोगों से अपील की कि जब तक सफाई मुलाजिम हड़ताल पर हैं तब तक कूड़ा उठाने में कुछ इलाकों में दिक्कत आ सकती है इसलिए वह इसमें सहयोग करें। मेयर ने कहा कि एक गुट हड़ताल पर है लेकिन जो मुलाजिम काम कर रहे हैं उनका आभार है।

50 लाख प्रॉपर्टी टैक्स मिला, आज से सिर्फ ब्याज में छूट

डिफाल्टरों के लिए 70 प्रतिशत छूट के साथ बुधवार को प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने के आखिरी दिन नगर निगम को करीब 50 लाख रुपये टैक्स प्राप्त हुआ है। सुपरिंटेंडेंट महीप सरीन ने बताया कि करीब 2700 लोगों ने टैक्स जमा करवाया है। मंगलवार को हड़ताली मुलाजिमों के दफ्तर बंद करवाने से रेवेन्यू कम मिला था और लोगों को भी वापस लौटना पड़ा था। बुधवार को मेयर ने सख्ती की और नगर निगम कांप्लेक्स में पुलिस की भी तैनात करवा दी। महीप सरीन ने बताया कि अब अगले तीन महीने तक सिर्फ ब्याज माफ रहेगा। लोग 10 प्रतिशत पेनल्टी के साथ प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवा सकेंगे। इससे डिफाल्टरों को कुल टैक्स में करीब 20 प्रतिशत की राहत रहेगी।

पुलिस नई जिम्मेदारी बखूबी निभा रही : भुल्लर

पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने नगर निगम के सफाई मुलाजिमों की हड़ताल के मद्देनजर पंजाब पुलिस की गार्बेज लिफ्टिंग के दौरान सुरक्षा मुहैया करवाने की तारीफ की है। भुल्लर ने कहा कि एक तरफ जहां हेल्प इशु को देखते हुए शहर में कूड़ा उठाने में नगर निगम की मदद की जा रही है। वहीं मुलाजिमों के धरने के दौरन लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने का काम भी संभाला हुआ है। पुलिस कमिश्नर ने कहा कि पंजाब पुलिस के लिए यह नई चुनौती है और इसे बखूबी निभाया भी जा रहा है। डीसीपी बलकार सिंह नगर निगम परिसर में सुरक्षा व्यवस्था संभाल रहे हैं और यूनियनों से भी बातचीत कर रहे हैं ताकि समझौते का कोई रास्ता निकल सके।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!