संवाद सहयोगी, करतारपुर। बीडीपीओ सेवा सिंह और सुखबीर कौर सेक्रेटरी जिला परिषद ने गांव दयालपुर में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया। उन्हें सरपंच हरजिंदर सिंह राजा ने गांव में चल रहे कार्यों के बारे में जानकारी दी। टीम ने विकास कार्यों पर चल रहे काम को लेकर तसल्ली प्रकट की। इस मौके पर बीडीपीओ सेवा सिंह ने कहा कि सरकार ने गांव दयालपुर के विकास के लिए 70 लाख रुपये की ग्रांट जारी की थी। उस ग्रांट से गांव में पंचायत घर की इमारत, जिम बिल्डिंग के लैंटर, सीवरेज तथा गलियों में टाइल्स लगाई जा रही हैं। ये सब कार्य तेजी से पूरे किए जा रहे हैं। 

सरपंच हरजिंदर सिंह राजा ने कहा कि सरकार की ओर से दी गई 70 लाख रुपये की ग्रांट के अलावा प्रवासी भारतीय भाइयों (एनआरआइ) और गांव वालों ने भी दयालपुर के विकास के लिए 30 लाख रुपये का सहयोग दिया है। बाद में बीडीपीओ सेवा सिंह एवं सेक्रेटरी जिला परिषद सुखवीर कौर को शाल भेंट कर सम्मानित किया गया इस मौके पर सैक्रेटरी सुखविंदर सिंह, एओ रविंदर गोयल, पंच अश्वनी सेठ, अनिल सेठ, परमजीत सिंह बल्लू, दलबीर सिंह पूर्व पंच, पंच कश्मीरी लाल, परमजीत कौर, हरविंदर कौर, सुरजीत कौर, कमलजीत कौर, अवतार सिंह शाह प्रधान स्पोट्र्स क्लब, विनोद कुमार घुग्ग, भिंदा खख, सुखमीत सिंह, प्रभजीत सिंह के अलावा अन्य मौजूद थे।

सूरी बिरादरी के सैकड़ों लोगों ने जठेरों का लिया आशीर्वाद, हवन मे डाली आहुतियां

संवाद सहयोगी, करतारपुर। सोनिया मोहल्ला स्थित सूरियां मंदिर में सूरी जठेरों का मेला प्रधान नीरज सूरी की देखरेख में मनाया गया। दूर-दूर से आए परिवार के सैकड़ों श्रद्धालुओं ने नतमस्तक होकर आशीर्वाद लिया।

सबसे पहले सुबह 9 बजे पंडित अशोक शर्मा वृंदावन वालों ने गायत्री मंत्र उच्चारण के साथ हवन में पूर्णाहुति डलवाई। यजमान काला सूरी एवं उनका परिवार था। सुबह सभी सूरी परिवार के सदस्यों ने झंडा चढ़ाने की रस्म अदा की और जठेरों के आगे नतमस्तक होकर आशीर्वाद लिया। आरती के बाद महिलाओं ने संकीर्तन करके बुजुर्गों को याद किया। भंडारे एवं ब्रह्मभोज का भी आयोजन किया गया।

इस अवसर पर प्रधान नीरज सूरी राजेश सूरी, सुरेंद्र सूरी, काला सूरी , योगेश सूरी, कृष्णकांत सूरी, रमाकांत सूरी, गौतम सूरी, नलिन सूरी, जुगल किशोर, उर्मिला सूरी , सिम्मी सूरी, रूपा सूरी, कांता सूरी, सुमन सूरी, नन्नू सूरी, विनायक सूरी, संजय सूरी, युद्धवीर सूरी, विनायक सूरी, मुकेश सूरी, सुभाष सूरी, राजकुमार सूरी, कुलदीप सूरी, गगनदीप सूरी, सुभाष सूरी, विक्रम सूरी, लक्ष्मण दास सूरी, अश्वनी सूरी, ज्ञानचंद सूरी, राकेश सूरी, अनुराग सूरी, हर्षा सूरी, एवं पूरी परिवार उपस्थित थे।

Edited By: Pankaj Dwivedi