जागरण संवाददाता, जालंधर : इंप्रूवमेंट ट्रस्ट का विवादों से नाता नहीं छूट रहा है। अब नया विवाद सुपरिंटेंडेंट अमरजीत सिंह व प्रॉपर्टी डीलर गौरव वर्मा के बीच हाथापाई को लेकर हुआ है। इस मामले में दोनों पक्षों ने ईओ सुरिंदर कुमारी और चेयरमैन दीपर्वा लाकड़ा को शिकायत दी है। ईओ का कहना है कि ट्रस्ट के समूह कर्मचारियों के हस्ताक्षर युक्त शिकायत उन्हें लिखित में दी गई है। इस पर विचार कर सोमवार को आगे की कार्रवाई होगी।

शिकायत में सुपरिंटेंडेंट अमरजीत सिंह ने कहा है कि गौरव वर्मा ने सूर्या एन्क्लेव के प्लॉट नंबर 107-बी की ट्रांसफर के लिए फोटोग्राफी कराने को कहा, जिसे बताया गया कि चेयरमैन के आदेश अनुरूप इन्हांसमेंट जमा कराने के बाद ही आगे का काम होगा। बिना इन्हांसमेंट जमा कराए फोटाग्राफी करवाने से मना करने पर गौरव वर्मा ने उसे गाली देते हुए हाथापाई की और जान से मारने की धमकी दी। अमरजीत ने कहा कि उसकी जान को खतरा है और किसी प्रकार का नुकसान पहुंचाया जा सकता है, इसलिए गौरव वर्मा के खिलाफ पर्चा दर्ज कराया जाए। शिकायत पर अजय मल्होत्रा, अनुज राय, मुख्तियार सिंह, पवन कुमार, अनिल कुमार, नरिंदर कौर, एकाउंटेंट आशीष कुमार सहित समूह कर्मचारियों के हस्ताक्षर हैं।

दूसरी ओर गौरव वर्मा ने ईओ व चेयरमैन के साथ ही पुलिस कमिश्नर व डिप्टी डायरेक्टर को भेजी शिकायत में कहा कि उसके पहचान वाले के प्लाट की ट्रांसफर के लिए फोटोग्राफी की बात कही थी, जिसके बाद भी इन्हांसमेंट दी जा सकती है। लेकिन अमरजीत सिंह जानबूझ कर फाइल पेंडिंग कर रहा था। उसका पहचान वाला इसी चक्कर में तीन बार अपनी छुट्टी लेकर अमृतसर से आ चुका है। इसी बात को लेकर अमरजीत ने उसके साथ बदतमीजी की और फिर गाली देते हुए हाथापाई करने लगा, लेकिन साथ के स्टाफ ने उसे रोककर बीच-बचाव किया। उन्होंने कमिश्नर से उसके खिलाफ पर्चा दर्ज करने की मांग की गई है।