जागरण संवाददाता, जालंधर : निगम की हेल्थ एंड सेनिटेशन कमेटी मंगलवार को वरियाणा डंप का दौरा करेगी। डंप पर 40 साल से जमा कूड़े को खत्म करने और रोजाना जा रहे कूड़े तो खाद में बदलने की संभावनाएं तलाशी जाएंगी। एडहॉक मीटिग की अध्यक्षता करते हुए चेयरमैन पार्षद बलराज ठाकुर ने साथी सदस्यों के मामला उठाने पर बायोमाइनिग प्रोजेक्ट पर भी चर्चा की। पार्षद जगदीश समराय पहले ही मांग कर चुके हैं कि इस प्रोजेक्ट में गड़बड़ी की आशंका है इसलिए इसकी शर्तो में बदलाव करके नए सिरे से टेंडर लगाया जाए। बायोमाइनिग प्रोजेक्ट का टेंडर अब नई शर्तो के साथ जारी हो सकता है। इसी के मद्देनजर एडहॉक कमेटी के सदस्य वरियाणा डंप का दौरा करेंगे।

पिछली बैठक में हेल्थ डिपार्टमेंट को निर्देश था कि वह सफाई मुलाजिमों की लिस्ट लेकर आएंगे ताकि पता चल सके कि कौन सा मुलाजिम कहां तैनात है। इसी लिस्ट के आधार पर जगदीश समराय ने बताया कि उनके वार्ड में जिन मुलाजिमों की तैनाती बताई जा रही है उनमें से एक मुलाजिम सुखदेव की मौत कई महीने पहले हो चुकी है। उन्होंने कहा कि लिस्ट में ऐसी और भी कई गड़बड़ियां हैं। पार्षद समराय ने फिर कहा कि सभी वार्डो में बराबर मुलाजिम तैनात किए जाएं। चेयरमैन बलराज ठाकुर ने कहा कि इसके लिए बीएंडआर डिपार्टमेंट की मदद लेंगे ताकि पता चल सके कि किस वार्ड में कितने किलोमीटर सड़कें हैं और कितने मुलाजिम सफाई के लिए चाहिए। हालांकि अभी कमेटी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। कमेटी के चेयरमैन बलराज ठाकुर ने कहा कि शहर के सभी मेन रोड पर बिना मंजूरी बने अवैध डंप खत्म किए जाएंगे। पार्षद अवतार सिंह ने कहा कि लब्भू राम दोआबा स्कूल के पास कई साल से बिना मंजूरी डंप चल रहा है जिसे जल्द समाप्त किया जाए। रोड स्वीपिंग मशीन से दो शिफ्ट में सफाई करवाई जाएगी

ठाकुर ने रोड स्वीपिग मशीन से दो शिफ्ट में काम लेने की योजना तैयार करने को कहा है। उन्होंने कहा कि मशीन का पूरा इस्तेमाल होना चाहिए। उन्होंने अफसरों से कहा है कि रोड स्वीपिग मशीन का शेडयूल तैयार किया जाए। कमेटी ने पिछली मीटिग में कहा था कि सफाई के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मशीनरी की लिस्ट दी जाए ताकि जरूरत के मुताबिक मशीनरी का इस्तेमाल किया जा सके। इसके बावजूद हेल्थ टीम मशीनरी की लिट लेकर नहीं आई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!