जालंधर, [शाम सहगल]। अब रसोई गैस उपभोक्ता को कम वजन वाले गैस सिलेंडर की मार नहीं झेलनी पड़ेगी। इसके लिए जिले के गैस वितरकों ने सभी वितरकों को सख्त आदेश जारी करते हुए गैस सिलेंडर का वजन करने के बाद ही डिलीवरी देने के आदेश दिए हैं। यही नहीं, गैस सप्लाई करने वाले सप्लायर को साथ में वेटेज मशीन, यूनिफॉर्म तथा वाउचर पर अंकित राशि ही लेने की हिदायतें भी दी हैं। पूरे मामले को लेकर 'दैनिक जागरण' ने प्रमुखता से मुद्दा उठाया था। इसका संज्ञान लेते हुए जिला खाद्य आपूर्ति विभाग ने इसे गंभीरता से लिया है।

जिला खाद्य व आपूर्ति अधिकारी नरेंद्र सिंह बताते हैं कि उपभोक्ताओं के अधिकारों का हनन कानूनी अपराध है। इसके लिए सभी गैस वितरकों को वजन से लेकर सील तथा चार्जेस को लेकर तमाम नियमों की पालना करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके बाद वितरकों में भी बदलाव आया है। 'दैनिक जागरण' की टीम ने बुधवार को शहर के विभिन्न इलाकों का दौरा किया तो गैस वितरक डिलीवरी देते समय वेटेज मशीन के साथ सिलेंडर का वजन भी चेक करवा रहे थे। अचानक से आए इस बदलाव के बाद उपभोक्ता भी प्रोत्साहित हैं।

सप्लाई से पहले वितरक दे रहे हिदायतें

खाद्य आपूर्ति विभाग की अरे से जारी आदेशों का असर साफ तौर पर गैस एजेंसियों, गोदामों और गैस वितरकों पर देखने को मिला है। 'दैनिक जागरण' की टीम लोक सेवा गैस एजेंसी, लाजपत नगर के बूटा पिंड के साथ लगते देयोल नगर स्थित गोदाम में पहुंची तो यहां गैस वितरक ललितेश भसीन खुद वितरकों की जांच कर रहे थे। इस दौरान गैस सिलेंडर की डिलीवरी देते समय वजन तथा कैश संबंधी ग्र्राहक की तसल्ली करवाने की हिदायत दी जा रही थी। सप्लायर की यूनिफॉर्म और यंत्रों की जांच भी की जा रही थी। नियमों की पालना न करने वालों पर कार्रवाई की भी चेतावनी दी। यहीं स्थिति बोलिना गैस सर्विस की थी, यहां पर राजेश बोलिना द्वारा सभी सप्लायर्स को बेहतर सेवाएं देने की हिदायतें दी गईं।

एजेंसियों पर दुरुस्त हुए साइन बोर्ड

इसके बाद 'दैनिक जागरण' की टीम रामा मंडी इलाके में पहुंची। यहां हरमन गैस एजेंसी के ऑफिस में लगे साइन बोर्ड पर हर साइज के सिलेंडर के दाम अंकित किए गए थे। छोटे सिलेंडर से लेकर घरेलू तथा कॉमर्शियल सिलेंडर से लेकर कैश एंड कैरी पर मिलने वाली रिपोर्ट की जानकारी भी अंकित की गई थी। एजेंसी पर मौजूद जीएम जगदीश कुमार बताते हैं कि हर माह दाम निर्धारित होने के बाद बोर्ड पर अंकित कर दिए जाते हैं। यह दाम महीना भर रहते हैं।

वितरक निभाने लगे जिम्मेदारी, उपभोक्ता हुए जागरूक

गैस वितरकों द्वारा वेटेज मशीन इस्तेमाल न करने सबंधी भी प्रमुखता से समाचार प्रकाशित किया गया था। इसके बाद उपभोक्ताओं में जागरूकता आई है। इसी का परिणाम है कि अब गैस वितरक भी वेटेज मशीनें साथ में लेकर चल रहे हैं और सिलेंडर वजन करके ही दिया जाता है। टीम प्रोफेसर कॉलोनी पहुंची तो वहां वितरक ने सिलेंडर की डिलीवरी देने से पहले खुद ही उसका वजन करते हुए ग्राहक को चेक करने को कहा। इसके बाद नंगल शामां रोड में जब सप्लायर सिलेंडर देने पहुंचा तो उपभोक्ता ने खुद ही वजन करके देने की मांग कर दी। इसके बाद उपभोक्ता ने सिलेंडर पर अंकित वजन तथा गैस को मिलाकर संतुष्टि जताई। यही स्थिति रामा मंडी रोड पर एक घर के बाहर देखने को मिली। यहां पर उपभोक्ता ने गैस सिलेंडर की डिलीवरी लेने से पहले वजन, सील तथा वाउचर पर अंकित रेट चेक किया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!