जासं, जालंधर : नगर निगम की वित्त एवं ठेका कमेटी की मीटिग में डेवलपमेंट के पांच टेंडर रद कर दिए गए। इनमें सड़कों और सीवरेज लाइन के काम हैं। इन सभी टेंडरों पर ठेकेदारों ने निगम को कम लेस दिया था। निगम कम से कम 10 प्रतिशत लेस पर काम दे रहा है जबकि यह टेंडर करीब पांच प्रतिशत लेस पर थे। इन सभी टेंडरों को अब दोबारा लगाया जाएगा। जो काम रोके गए हैं उनमें वार्ड नंबर 15 में कीर्ति नगर और मोहल्ला लाडोवाली रोड, वार्ड 10 में ढिलवां की सड़क और झांसी कालोनी, ग्लोब कालोनी, शकर गार्डन में सीवरेज लाइन शामिल है। मीटिग में 3 करोड़ के काम पास किए जाने थे लेकिन सिर्फ 2 करोड़ के काम मंजूर किए गए। सड़कों के काम में वार्ड नंबर छह बावा जी गली लम्मा पिड, वार्ड नंबर 59 संतोखपुरा गुरु रविदास गुरुद्वारा और चड्ढा स्वीट्स की बैक साइड, सावन नगर वार्ड नंबर 65, वार्ड नंबर 44 में कोट बाजार से दशहरा ग्राउंड, राम लीला ग्राउंड, गुरुद्वारा कलगीधर रोड के काम मंजूर किए गए हैं। एक ही सुपर सक्श्न मशीन पर दो ठेके लेने की गड़बड़ी का मामला पेंडिग

मीटिग में जोन नंबर दो में सुपर सक्शन मशीन से सफाई का ठेका देने का टेंडर अभी पेंडिग है। ठेकेदार ने एक ही गाड़ी पर दो जोन का ठेका लेने का प्रयास किया था, लेकिन वित्त कमेटी ने गड़बड़ी पकड़ ली थी। ठेका कंपनी ने स्पष्टीकरण दिया है और अपील की थी कि दूसरे नंबर की कंपनी को टेंडर दे दिया जाए। हालांकि गडबड़ी को देखते हुए कमेटी मेंबरों ने इसे मामले को लंबित रखा है।

Edited By: Jagran