संवाद सहयोगी, करतारपुर : जीटी रोड करतारपुर स्थित सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फार वेजीटेबल में तीन दिवसीय किसान सिखलाई कोर्स शुक्रवार को सम्पन्न हो गया। इस कोर्स में 15 जिलों से 45 किसानों ने भाग लिया।

कार्यक्रम में डॉ. पु¨ष्पदर ¨सह औलख डायरेक्टर विभाग पंजाब ने कहा कि सेंटर ऑफ एक्सीलेंस वेजीटेबल किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो रहा है। पंजाब के किसान यहां आकर सुरक्षित खेती की ट्रे¨नग ले रहे हैं। अब तक 650 से अधिक किसान ट्रे¨नग लेकर फायदेमंद खेती कर रहे हैं। उन्होंने आगे बताया कि जो किसान यहां से ट्रे¨नग लेकर जाता है, वो रिवायती खेती धान, गेहूं की फसली चक्र से बाहर निकल कर सब्जियों की खेती की तरफ आगे बढ़ रहा है। सेंटर में किसानों को हर तरह की ट्रे¨नग जैसे रोग रहित पनीरी तैयार करनी, पोली हाउस में सब्जी की खेती करना व मार्के¨टग एवं संभाल की जरूरी जानकारी दी जाती है।

वहीं डॉ. दलजीत ¨सह गिल प्रोजेक्ट अफसर ने बताया कि एक कनाल पोली हाउस में 50 हजार से 70 हजार के करीब वार्षिक मुनाफा कमाया जा सकता है। किसान इजरायली तरीके खेतों में अपना कर अधिक फायदा ले सकते हैं। अब तक सेंटर से 92 लाख की पनीरी किसानों की सप्लाई की जा चुकी है। डिप्टी डायरेक्टर बागवानी विभाग डॉ. सतबीर ¨सह ने कहा कि ट्रे¨नग में डॉ. एसके अरोड़ा (वेजीटेबल एक्सपर्ट हरियाणा), डॉ. तेजवीर ¨सह, डॉ. विक्रम वर्मा, डॉ. त्रिप्त कुमार, डॉ. नवीन कुमार की ओर से अलग-अलग विषयों पर किसानों को जानकारी दी गई। अंत में डॉ. औलख ने आए किसानों को सर्टिफिकेट बांटे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!