संवाद सूत्र, फिल्लौर : ठगों ने पंजाब पुलिस के एक जवान से 25 हजार रुपये ठग लिए। पीड़ित हुस्न लाल ने बताया कि वह पंजाब पुलिस में नौकरी करता है और इन दिनों उसकी ड्यूटी फिल्लौर हाईटेक नाके पर लगी है। कुछ दिन पहले फेसबुक पर एक फौजी ने ऑल्टो कार बेचने की पोस्ट डाली। पोस्ट में दिए गए फोन नंबर पर कॉल की तो उसने कहा कि वह सैनिक है और आगरा का रहने वाले है, वह सेट्रल इंडस्ट्रीज सिक्योरटी फोर्स में काम करता है। उसने अपनी गाड़ी की वीडियो बनाकर भेजी। गाड़ी पसंद आने पर सौदा एक लाख 20 हजार रुपये में तय हुआ।

हुस्न लाल ने एंडवास के तौर पर दो हजार रुपये उसके बताए बैंक खाते में डाल दिए। जिसके बाद 11 फरवरी को ठग ने कहा कि उसने गाड़ी ट्रांसपोर्ट से बुक करवा दी है। उसे बिलटी के आठ हजार रुपये देने होंगे। पीड़ित ने आठ हजार रुपये उसके खाते में डलवा दिए। दो दिन बाद फिर उसे फोन आया कि गाड़ी क्लीयरेस के लिए बलाचौर के पास खड़ी है, 30 हजार रुपये लगेंगे। जिस पर उसने 15 हजार रुपये और उसके खाते में जमा करवा दिए। उसके बाद से ना तो वह व्यक्ति फोन उठा रहा है और ना ही उसने गाड़ी भेजी। उसने थाना गोराया में इस संबंधी शिकायत दर्ज करवाई। जांच में पता चला कि जो गाड़ी दिखाई गई है वह पहले ही तीन जगह बिकी हुई थी। इसी नकली जवान ने कार के नाम पर फरीदकोट व चंडीगढ़ निवासी दो लोगों से भी लाखों की ठगी की थी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!