जागरण संवाददाता, जालंधर। भारत की आजादी के 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में केंद्र सरकार, राज्य सरकार एवं गुरु रविदास आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी के द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इस उपलक्ष्य में  दयानंद आयुर्वेदिक कालेज की ओर से शहर के विभिन्न सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में जाकर विद्यार्थियों को स्वस्थ जीवन जीने की कला बताई जा रही है। इसी क्रम में पुलिस डीएवी पब्लिक स्कूल में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया गया। जिसके अंतर्गत डा. अंजली ने विद्यार्थियों को उचित खानपान तथा जीवनशैली जीने के तरीके बताए गए। आने वाले समय में वे बीमारियों से बच सकते हैं तथा अपने आसपास के समाज को भी स्वस्थ रहने की कला सिखा सकते हैं।

पुलिस डीएवी पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल रश्मि विज ने बताया कि विद्यार्थी अपना समय प्राय घर के अंदर बैठकर ही व्यतीत कर देते हैं और उनका अधिकतर समय मोबाइल या लैपटॉप के सामने ही बीत जाता है। इस कारण से उन्हें बाहर आकर खेलने  का समय नहीं मिल पाता है और शारीरिक गतिविधियां न के बराबर होती हैं। इसके कारण से असमय बीमारियां जैसे मोटापा, डायबिटीज, बालों का जल्दी सफेद होना तथा झड़ना, आंखों की बीमारियां, सिर दर्द, माइग्रेन, तनाव अनिद्रा तथा चिड़चिड़ापन बहुत आम हो गई है। इन बीमारियों को उचित खानपान तथा उचित रहन-सहन के माध्यम से ही ठीक किया जा सकता है।

कार्यक्रम की रिसोर्स पर्सन डॉ. अंजलि ने बताया कि किस प्रकार से हमारे घर में तथा घर के आसपास जो जड़ी बूटियां हैं उनका प्रयोग कर सकते हैं और अपने स्वास्थ्य को बेहतर कर सकते हैं। सर्दियों के आने वाले महीनों में किस प्रकार अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है तथा रोगों से दूर रहा जा सकता है। इसके बारे में भी विद्यार्थियों को बहुत ही अच्छे तरीके से बताया गया। दयानंद आयुर्वेदिक कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. संजीव सूद ने रश्मि विज प्रिंसिपल पुलिस डीएवी से धन्यवाद किया कि उन्होंने इस कार्यक्रम हेतु अपना सहयोग दिया।

Edited By: Vinay Kumar