आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। पंजाब में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही राजनीतिक दलों की सरगर्मियां और तेज हो गई हैं। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी इन दिनों एक के बाद एक कई कार्यक्रमों को संबोधित कर रहे हैं। हालांकि आयोग ने रैली पर प्रतिबंध लगाया है, लेकिन नेता वर्चुअल तरीके से कार्यक्रमों से जुड़ रहे हैं। पिछले सप्ताह सीएम चन्नी ने सोनू सूद की बहन मालविका सूद को कांग्रेस में शामिल करवाया तो सोनू सूद ने एक वीडियो के जरिये चन्नी को सीएम फेस के रूप में प्रोजेक्ट किया। इस वीडियो को कांग्रेस ने ट्वीट भी किया है। आइए एक नजर डालते हैं सीएम चन्नी से पिछले सप्ताह के मुख्य कार्यक्रमों पर 

कैंपेन ट्रैकर

चरणजीत सिंह चन्नी

राज्‍य: पंजाब 

दिनांक 9 जनवरी, दिन रविवार

स्‍थान: चंडीगढ़

मुख्‍य बिंदु- श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर सीएम चन्नी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि करतार कारिडोर को फिर से खोला जाए। पिछले महीने मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को खत लिखकर कहा था कि श्रद्धालुओं को गुरुद्वारा घूमने की इजाजत दी जाए।

मुद्दे- करतारपुर कारिडोर

प्रमुख बातें -  सीएम चन्नी ने कहा कि यदि करतारपुर साहिब कारिडोर खोल दिया जाए तो यह सिख संगत के लिए प्रकाश पर्व पर यह सिखों को तोहफा होगा।

---------------------------------------------

दिनांक 10 जनवरी, दिन सोमवार

स्‍थान: मोगा

मुख्‍य बिंदु- चन्नी फिल्म अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद को कांग्रेस में शामिल करवाने के लिए मोगा स्थित उनके आवास पर पहुंचे। इस दौरान पार्टी के पंजाब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू भी मौजूद रहे।

मुद्दे- कांग्रेस का कुनबा बढ़ाना

प्रमुख बातें - यह पहला मौका था जब प्रदेश के मुख्यमंत्री और सत्तारूढ़ पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष किसी को अपनी पार्टी में शामिल करवाने के लिए एक साथ संबंधित व्यक्ति के घर पहुंचे हों। चन्नी ने मालविका को मोगा से प्रत्याशी घोषित करने का एलान किया।

-------------------------------------------------------

दिनांक 11 जनवरी, दिन मंगलवार

स्‍थान: मोरिंडा

मुख्‍य बिंदु- मालविका सूद को कांग्रेस में शामिल करने पर विधायक हरजोत कमल इस्तीफा लेकर चन्नी के मोरिंडा स्थित आवास पर पहुंचे। मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और कई कैबिनेट मंत्री हरजोत को मनाने में जुटे रहे।

मुद्दे- मान मनव्वल 

प्रमुख बात - दोपहर करीब दो बजे डा. हरजोत ने मुख्यमंत्री से उनके मोरिंडा स्थित निजी आवास पर मुलाकात की। उन्होंने अपने समर्थक करीब 40 सरपंचों व पंचों, 15 पार्षदों और शहर के मेयर के साथ वहां पहुंचकर नाराजगी जताई।

----------------------------------------------

दिनांक 12 जनवरी, दिन बुधवार

स्‍थान: चंडीगढ़

मुख्‍य बिंदु- राष्ट्रीय युवा दिवस पर सीएम चन्नी ने युवाओं को संदेश दिया। कहा कि एक महान दार्शनिक, आध्यात्मिक नेता और सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर वह राज्य के युवाओं को कौशल और क्षमता प्रदान करने के लिए पार्टी के उद्देश्य को दोहराते हैं। 

मुद्दे- राष्ट्रीय एकता दिवस

प्रमुख बात - सीएम चन्नी ने युवाओं से स्वामी विवेकानंद के जीवन से प्रेरणा लेने का संदेश दिया। 

--------------------------------------

दिनांक 13 जनवरी, दिन गुरुवार

राज्‍य: पंजाब

स्‍थान: नई दिल्ली

मुख्‍य बिंदु- नई दिल्ली में कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की बैठक में स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्यों की बैठक। बैठक में उम्मीदवारों के नामों पर सहमति नहीं बनी।

मुद्दे- प्रत्याशियों की सूची

प्रमुख बात - टिकट बंटवारे को लेकर सहमति नहीं बनी। पार्टी अध्यक्षा सोनिया गांधी ने स्क्रीनिंग कमेटी को निर्देश दिया कि पहले एक राय बनाएं, उसके बाद ही सीईसी के सामने आएं। बैठक में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और वरिष्ठ नेता सुनील जाखड़ के बीच मतभेद उभर कर सामने आए।

----------------------------------------

दिनांक 14 जनवरी, दिन शुक्रवार

राज्‍य: पंजाब

स्‍थान: चमकौर साहिब (रूपनगर)

मुख्‍य बिंदु- मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने चमकौर साहिब के गुरुद्वारा श्री कत्लगढ़ साहिब में माथा टेका। कहा कि उनके चमकौर साहिब छोड़ने की अफवाह फैलाई जा रही है। यह विरोधियों की चाल है। वोटरों को ऐसी साजिशों से बचना चाहिए। अगर हाईकमान मुझे दो हलकों से लड़ाती है, तो मैं जरूर लड़ूंगा।

मुद्दे- चुनाव कहां से लड़ेंगे

प्रमुख बात - चन्नी ने कहा कि वह दोनों सीटों पर जीत दर्ज करेंगे। वह गुरु महाराज का आशीर्वाद लेने आए थे। इस क्षेत्र ने उन्हें विधायक का रुतबा दिलाया और गुरु महाराज ने मुख्यमंत्री के पद तक पहुंचा दिया। अगर वाहेगुरु ने मुझे दोबारा मुख्यमंत्री बनाने का मौका दिया, तो चमकौर साहिब को पर्यटन नगरी के रूप में विकसित कर विश्व मानचित्र पर लाया जाएगा।

----------------------------------------

दिनांक 15 जनवरी, दिन शनिवार

राज्‍य: पंजाब

स्‍थान: चंडीगढ़

मुख्‍य बिंदु-  पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा को पत्र लिखकर पंजाब में विधानसभा चुनाव छह दिन के लिए स्थगित किए जने का आग्रह किया। उन्होंने दलील दी है कि 16 फरवरी को गुरु रविदास जी का प्रकाश पर्व है और पंजाब में भारी संख्या में अनुसूचित जाति से संबंधित लोग उनका प्रकाश पर्व मनाने के लिए हर साल बनारस जाते हैं।

मुद्दे- श्री रविदास जयंती

प्रमुख बात - चन्नी ने कहा कि बनारस में जाने के लिए 20 लाख लोग 10 फरवरी से ही जाना शुरू कर देते हैैं और यह 16 फरवरी तक वापस आते हैैं। ऐसे में वह 14 फरवरी को होने वाले मतदान में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। इसलिए पंजाब में चुनाव कम से कम छह दिन के लिए टाल दिए जाएं और यह 20 फरवरी के बाद ही करवाए जाएं।

Edited By: Kamlesh Bhatt