जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में आर्य समाज शहीद भगत सिंह नगर स्त्री आर्य समाज की तरफ से माघ मास को लेकर समारोह का आयोजन हुआ। जिसका आगाज श्री गायत्री महायज्ञ के साथ किया गया। जिसमें कुबेर शर्मा तथा नंदनी मुख्य यजमान के रूप में शामिल हुए। आचार्य सुरेश शास्त्री ने वेद मंत्रों की पावन ऋचाओं के द्वारा यज्ञ संपन्न करवाया। जिले भर से पहुंचे श्रद्धालुओं ने गायत्री महामंत्र के सामूहिक उच्चारण के साथ आहुतियां दी।

इसके उपरांत सोनू भारती ने यज्ञ प्रार्थना करवाई तथा माघ मास के धार्मिक महत्व पर आधारित सुंदर भजन सुनाया। इस अवसर पर प्रवचन करते हुए आचार्य शास्त्री ने बताया कि मकर संक्रांति उत्तरायण का प्रमुख पर्व है। हर पव्र व त्योहार इंसान को आध्यात्मिकता का संदेश देते है। इसलिए हर त्योहार सामूहिक रूप से व आपसी भाईचारे के साथ मनानी चाहिए। माघ मास में गायत्री महायज्ञ करने से पुण्यफल की प्राप्ति होती है। शास्त्रों में भी इसका विशेष रूप से जिक्र किया गया है। मंच संचालन स्त्री आर्य समाज की प्रमुख भारती शर्मा ने किया। प्रवीण लखनपाल ने सभी को माघ मास की शुभकामनाएं दी।

स्त्री आर्य समाज की कार्यकारी प्रधान अनु आर्य ने सभी का आभार जताया। आर्य समाज के प्रधान रणजीत आर्य ने स्त्री आर्य समाज की पदाधिकारियों को सफल आयोजन पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि स्त्री आर्य समाज के द्वारा धर्म के प्रचार में अहम भूमिका अदा की जा रही है। इस अवसर इंदू आर्य, डिंपल भाटिया, मधु गुप्ता, स्नेहलता कालिया, नीधि मोहन, अनीता अरोड़ा, मीनू शर्मा, श्यामा रानी,रहमत भाटिया, निधि कुमार, रजनी अरोड़ा ,पारुल वधवा, गीतिका अरोड़ा, अर्चना मिश्रा, ज्योति सिंह, उमा शुक्ला, मोनिका अरोड़ा, भूपेंद्र उपाध्या, हर्ष लखनपाल, चौधरी हरिचंद, सुनित भाटिया, संदीप अरोड़ा, केदार नाथ शर्मा व विजय चावला सहित सदस्य मौजूद थे।

Edited By: Vinay Kumar