जासं, जालंधर। सेंट्रल बोर्ड आफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने शुक्रवार दोपहर 12वीं का नतीजा मूल्यांकन फार्मूले के तहत जारी कर दिया। इसमें जालंधर से एमजीएन स्कूल अर्बन अस्टेट फेस-2 से नान मेडिकल स्ट्रीम की छात्रा अक्षिता बांसल ने 99.2 फीसद अंक हासिल किए हैं। अक्षिता ने बोर्ड की तरफ से जारी किए गए नतीजों पर संतुष्टि जाहिर की है। उसका का कहना है कि कोविड-19 काल में परीक्षाएं नहीं हुई, यही अच्छा था। उस समय कोरोना संक्रमण का ज्यादा डर था। उससे बचना भी जरूरी है। बोर्ड की तरफ से उनकी परफार्मेंस के आधार पर अंक दिए गए हैं। ऐसा करना अच्छा ही रहा क्योंकि पिछली कक्षाओं के साथ-साथ हाईस टेस्ट, यूनिट टेस्ट और प्री बोर्ड की परीक्षाओं में उसकी परफार्मेंस अच्छी रही थी। यही कारण है कि उन्हें पता था कि नतीजे भी अच्छे ही आएंगे।

बता दें कि बोर्ड की तरफ से कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण परीक्षाएं रद कर दी गई थी। सीबीएसई ने रिजल्ट जारी करने के लिए  30-30-40 के फार्मूले को अपनाया गया था। रिजल्ट इसी फार्मूले पर तैयार किया गया है। छात्रों ने 10वीं और 11वीं के 5 में से जिन 3 सब्जेक्ट में सबसे ज्यादा स्कोर किया होगा, उसी आधार पर उनका रिजल्ट बना है। 12वीं के यूनिट, टर्म और प्रैक्टिकल एग्जाम में मिले अंकों को भी आधार बनाया गया है। 

नॉन मेडिकल में डीपीएस की सौम्या को 98.6 फीसद अंक 

नान मेडिकल में डीपीएस की सौम्या ने 98.6 फीसद, मेडिकल में जेसिका 98.4 फीसद, कामर्स से वंशिका छाबड़ा ने 98.8 फीसद और हम्यूमैनिटी से 96.8 फीसद अंक पाए।

 

Edited By: Pankaj Dwivedi