जालंधर, जेएनएन। तेज रफ्तार पजेरो ने अचानक अपने आगे रुकी पुलिस वाले की गाड़ी को टक्कर मार दी, जिसके बाद पुलिस वाले की कार से आगे चल रहे रेहड़ी को टक्कर लगी और रेहड़ी चालक 40 फुट ऊंचे डीएवी फ्लाईओवर से नीचे गिर पड़ा। हादसे में उसकी छाती की पसलियां टूट गई और सिर, कोहनी व कूल्हे पर भी गंभीर चोटें लगी हैं। उसे गंभीर अवस्था में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस वाले ने इस घटना के लिए पजेरो चालक को जिम्मेदार ठहराया। पजेरो मालिक ने रेहड़ी वाले का उपचार करवाने का आश्वासन दिया है। ऐसे में पुलिस ने फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की है।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बहराइच का रहने वाला निवारी यहां कृष्णा नगर में रहता है। वह शुक्रवार सुबह लगभग साढ़े आठ बजे मकसूदां सब्जी मंडी काम के लिए जा रहा था। इस दौरान वह डीएवी फ्लाईओवर से गुजर रहा था तो उसे पुलिस कर्मचारी की ब्रीजा कार ने पीछे से टक्कर मार दी। वो रेहड़ी से उछलकर फ्लाईओवर से नीचे जा गिरा। जिस कार से टक्कर लगी, उसे सीआइए स्टाफ के एएसआइ जसविंदर सिंह चला रहे थे। हालांकि जसविंदर का कहना है कि उसकी गाड़ी को पीछे से पजेरो ने टक्कर मारी, जिससे उसकी कार से आगे रेहड़ी को टक्कर लगी। जसविंदर ने तुरंत जख्मी निवारी को ऑटो में बिठाया और इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। उनके साथ पजेरो मालिक भी पहुंच गए और भरोसा दिया कि निवारी के इलाज का जितना भी खर्च होगा, वो देने को तैयार हैं। निवारी पिछले दस साल से जालंधर में रह रहा है और यहां सब्जी मंडी में काम करता है। उसका एक बेटा भी है।

मैंने कार रोक ली थी, पीछे से लगा धक्का : एएसआइ

एएसआइ जसविंदर सिंह ने कहा कि पुलिस लाइन से ड्यूटी लगवाकर वो अपनी जगह पर जा रहे थे। आगे ट्रक जा रहा था, मैंने उसे ओवरटेक करने की कोशिश की तो देखा आगे रेहड़ी जा रही थी और जगह कम थी। इसलिए मैंने ब्रेक लगा ली। पीछे से ओवरस्पीड पजेरो ने मेरी गाड़ी को टक्कर मारी। इससे मेरी गाड़ी रेहड़ी से टकरा गई।

निवारी व उसके घरवालों को संतुष्टि न हुई तो करेंगे कार्रवाई

जांच अधिकारी एएसआइ हीरा लाल ने कहा कि ब्रीजा कार को पीछे से पजेरो ने टक्कर मार दी। उसे पवन यादव चला रहा था और उसकी ब्रेक नहीं लगी। यह पजेरो कपूरथला के गांव सरूपेवाल के रहने वाले मंगल सिंह की है। हालांकि अब वो अर्बन एस्टेट में रहते हैं और यहां से शादी में कपूरथला जा रहे थे। एसएचओ ने कहा कि अभी हमें किसी की शिकायत नहीं मिली है। अगर इलाज कराने से निवारी या उसके घरवालों की संतुष्टि नहीं होती तो पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!