जालंधर, जेएनएन। फगवाड़ा और मुकेरियां विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा माइक्रोमैनेजमेंट पर काम कर रही है। भाजपा अपनी रणनीति बूथ जीतो सीट जीतो पर फोकस कर रही है। इसके लिए दोनों सीटों पर नियुक्त किए ऑब्जर्वर्स को निर्देश दिया है कि वे 21 अक्टूबर तक हलकों में ही डटे रहें। जालंधर के होटल कंट्री इन में पंजाब भाजपा के इंचार्ज प्रभात झा ने दोनों सीटों पर नियुक्त किए गए ऑब्जर्वर्स को मोटिवेट किया और कहा कि 21 अक्टूबर तक सिर्फ चुनाव ही ध्यान में होना चाहिए। कोई बहाना नहीं चलेगा। 21 तक सभी को सब काम छोड़ कर सिर्फ उपचुनाव पर काम करना है।

उन्होंने कहा कि जैसी सफलता देश में भाजपा को मिली है वैसी ही सफलता इन दो सीटों के उपचुनाव में भी मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वह खुद भी 15 अक्टूबर से इन दो सीटों पर नजर रखने के लिए पंजाब में ही रहेंगे और आब्जर्वरों से लगातार रिपोर्ट लेते रहेंगे। माइक्रो मैनेजमेंट के लिए भाजपा ने फगवाड़ा में 52 और मुकेरियां में 45 ऑब्जर्वर लगाए हैं। एक ऑब्जर्वर को पांच बूथों की जिम्मेदारी दी गई है।

मीटिंग में मौजूद पंजाब भाजपा अध्यक्ष श्वेत मलिक ने कहा कि दोनों ही सीटों पर वर्करों का मनोबल मजबूत रहना चाहिए और कांग्रेस की ढाई साल की कारगुजारी जनता के सामने लाएं। कांग्रेसी ढाई साल में पूरी तरह से फेल साबित हुई है और लोगों का कांग्रेस से मोहभंग हो गया है। मीटिंग में मंत्री केंद्रीय मंत्री सोमप्रकाश, पंजाब भाजपा के संगठन सचिव दिनेश कुमार, महासचिव राकेश राठौर, पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय सांपला, पूर्व विधायक केडी भंडारी, विनोद शर्मा, म¨हदर भगत, सुभाष सूद मौजूद रहे।

प्रभात झा से कहा-भाजपा नहीं, गुट काम कर रहे

ऑब्जर्वरों से मीटिंग के बाद जालंधर में पार्टी नेताओं से मिलने के लिए निकले पंजाब भाजपा के इंचार्ज प्रभात झा से पार्टी के एक सीनियर नेता ने कहा कि उपचुनाव में इस समय भाजपा काम नहीं कर रही, बल्कि भाजपा के गुट काम कर रहे हैं। ऐसे में पार्टी को नुकसान हो सकता है। गुटों में बंटी भाजपा के नेता बिना किसी एजेंडे के हलके में घूम रहे हैं। सिटी रेलवे स्टेशन पर जिला भाजपा के प्रमुख ओहदेदारों के सामने हुई इस चर्चा में भाजपा नेता ने फगवाड़ा उपचुनाव में जालंधर के नेताओं को जिम्मेवारी न देने पर भी एतराज जताया। उन्होंने कहा कि फगवाड़ा में बठिंडा, अमृतसर समेत दूसरे दूरदराज के शहरों से वर्कर्स की ड्यूटियां लगाई गई हैं। जबकि फगवाड़ा के लिए जालंधर से टीम लगनी चाहिए थी। जालंधर के वर्कर्स फगवाड़ा और मुकेरियां में ज्यादा समय दे सकते हैं। इससे फगवाड़ा में रिश्ते-नातों और दोस्तों को भी भाजपा के समर्थन में मोटिवेट किया जा सकता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!