जालंधर, जेएनएन। सिविल अस्पताल में ठंड के मौसम में मरीजों को परेशानी न झेलनी पड़े। मरीजों को चादर और कंबल देने की समस्या का समाधान करने के लिए अस्पताल प्रशासन ने गंभीरता दिखानी शुरू कर दी है। अस्पताल के अधिकारियों ने वार्डों में मरीजों को कंबल व चादर मुहैया करवाने के लिए बैठक में सुझाव के आधार पर नीतियां तैयार की।

सिविल अस्पताल प्रशासन वार्ड से कंबल व चादरें घर ले जाने और चोरी होने की आशंका को लेकर सुविधा देने से कतरा रहा था। 'दैनिक जागरण' ने भी इस मामले को प्रमुखता से उठाया था। इसके बाद अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और अधिकारियों ने बैठक कर समस्या का समाधान करने के लिए रणनीति तैयार की।

सिविल अस्पताल के कार्यकारी मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डाॅ. चन्नजीव सिंह का कहना है कि उक्त मामले को लेकर सभी एसएमओज व नर्सिंग स्टाफ की बैठक हुई। बैठक में गरीब मरीजों से चादर और कंबल देने के मामले को लेकर सिक्योरिटी राशि को रखना सही नहीं समझा गया। अस्पताल प्रशासन ने हर वार्ड में तैनात नर्सिंग स्टाफ को रजिस्टर लगाकर कंबलों व चादरों का लेखा-जोखा रखने की हिदायतें जारी की हैं। वार्ड में मरीजों चादर व कंबल जारी करने पर एंट्री की जाएगी।

मौके पर तैनात स्टाफ नर्स मरीज के दाखिल होने पर मरीज का आधार कार्ड जमा कर लेंगे और उन्हें चादर व कंबल देंगे। मरीज को अस्पताल से छुट्टी मिलने पर कंबल और चादर नर्सिंग स्टाफ को जमा करवाने पर उन्हें आधार कार्ड वापस कर दिया जाएगा। माह में दो बार स्टाफ स्टाक की रिपोर्ट देगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!