जागरण संवाददाता, बठिंडा। पंजाब में ट्रांसपोर्ट मंत्री के बदलने के साथ ही बठिंडा के बस स्टैंड के हालात भी बदलने लगे हैं। इन दिनों बस स्टैंड पर सफाई अभियान चलाया जा रहा है। गंदगी फेंकने वालों पर जुर्माना लगाने के आदेश हैं। सफाई के लिए ठेकेदार के मुलाजिमों के अलावा पीआरटीसी ने प्राइवेट लोगों को भी दिहाड़ी पर लगाया है। अधिकारी भी सफाई अभियान में जुटे हैं। एक दिन पहले ट्रांसपोर्ट मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने लुधियाना के बस स्टैंड पर सफाई कर आदेश दिए थे। तब उन्होंने कहा कि अगर आने वाले समय में यहां पर गंदगी दिखी तो जीएम से सफाई करवाई जाएगी।

बठिंडा के बस स्टैंड की बात की जाए तो यहां पर कभी बहुत ज्यादा गंदगी होती थी। बस स्टैंड के अंदर प्रवेश करते ही शौचालयों से गंदी बदबू आती थी। पिछले चार दिनों से चल रहे सफाई अभियान के यूरिनल सहित कई स्थानों की साफ-सफाई की गई है। यहां सफाई रखने के लिए पक्के तौर पर मुलाजिम को भी तैनात किया जाएगा। इसके अलावा बस स्टैंड पर 20 डस्टिबन भी लगा दिए गए हैं। इसी प्रकार बठिंडा पीआरटीसी डिपो के जीएम रमन शर्मा की ओर से नोटिस भी लगवा दिया गया है कि बस स्टैंड पर गंदगी फैलाने वाले ड्राइवरों व कंडक्टरों को 500 रुपये जुर्माना किया जाएगा। जबकि यह जुर्माना बस स्टैंड पर कैंटीन चलाने वालों के लिए भी जारी किए गए हैं।

बसों से उतरे तंबाकू उत्पादों के बैनर

बस स्टैंड पर फिलहाल 1 करोड़ रुपये की लागत से टाइलें लगाने के अलावा सीवरेज डालने का काम किया जा रहा है। इसके चलते जहां-जहां टाइलें लग रही हैं, वहां सफाई भी की जा रही है। ट्रांसपोर्ट मंत्री के आदेश के बाद बसों से तंबाकू उत्पादों के पोस्टर भी हटाए जा रहे हैं। बठिंडा डिपो में पीआरटीसी की 179 बसें हैं, जिनमें अधिकतर बसों पर यह बैनर लगे हुए थे। अब सभी बसों से इनको हटा दिया गया है। जबकि पीआरटीसी की कोई भी बस जब बस स्टैंड के अंदर प्रवेश करती है तो उसके गेट पर ही मुलाजिमों द्वारा इन बैनरों को हटाना शरू कर दिया जाता है। इसके साथ ही बसों पर लगे कैप्टन अमरिंदर सिंह के बैनर भी हटा दिए गए हैं। हाल ही में ट्रांसपोर्ट मंत्री राजा वडिंग ने दो दिन पहले बठिंडा जिले में पीआरटीसी की बस में सफर कर यात्रियों से बातचीत भी की थी।

प्राइवेट ट्रांसपोर्टरों के कैबिन भी हटे

बठिंडा के बस स्टैंड पर प्राइवेट ट्रांसपोर्टरों की ओर से लंबे समय से अपने कैबिन रखकर काम चलाया जा रहा था। अब इन कैबिनों को वहां से हटा कर डिपो की वर्कशाप में रख दिया गया है। जब इन कैबिनों को हटाया जा रहा था तो उस समय पुलिस बल भी तैनात किया गया था। बठिंडा डिपो के जीएम रमन शर्मा का कहना है कि बस स्टैंड पर सफाई अभियान लगातार चलेगा। इसके लिए मानिटरिंग भी की जाएगी। बठिंडा का बस स्टैंड पूरे पंजाब में सबसे बड़ा है। इस कारण यहां पर बेशक समय जरूर लग जाए, लेकिन हालात बदल दिया जाएगा। जगह जगह पर डस्बिन भी रख दिए हैं। इसके अलावा लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है।

Edited By: Pankaj Dwivedi