जासं, जालंधर। जालंधर में सरकारी कालेजों के सहायक प्रोफेसरों का शिक्षा मंत्री की कोठी के बाहर लगाया गया पक्का मोर्चा बरसात के बावजूद जारी रहा। इस दौरान सहायक प्रोफेसर शिक्षा मंत्री के खिलाफ खूब जम कर बरसे। 21 दिनों से चल रहे प्रदर्शन के बावजूद उनकी मांगों पर गौर न करने पर सभी में भारी रोष पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव आचार संहिता लागू होने में कम समय रह गया है, वहीं सरकार केवल झूठे वादों के सहारे उन्हें शांत कर रही है। क्योंकि सरकार उनकी मांगें मानने व काम करने के बजाए केवल समय पास कर रही है। ताकि चुनाव अचार संहिता लागू हो जाए। जिससे उन्हें कुछ करना ही ना पड़े।

गेस्ट फैकेल्टी सहायक प्रोफेसर एसोसिएशन पंजाब के प्रधान हरमिंदर सिंह डिंपल ने कहा कि शिक्षा मंत्री के हलके में उनके और कांग्रेस सरकार के विरोध में भंडी प्रचार शुरू किया है। लोगों को सरकार की गलत नीतियों प्रति जागरूक कर रहे हैं। सरकार ने अभी भी उनकी मांगों पर गौर नहीं किया तो आने वाले दिनों में भी यह भंडी प्रचार का सिलसिला जारी रखा जाएगा। जनजन तक सरकार और शिक्षा मंत्री के कार्यों की रिपोर्ट पेश की जाएगी, जिससे लोग खुद सच्चाई देख कर ही अपने मतदान का इस्तेमाल करें।

सरकार ने तो घर-घर नौकरी का दावा किया था, मगर वे 15 से 20 सालों तक नौकरियां करने के बावजूद उनकी नौकरी सुरक्षित नहीं हैं। ऐसे में वे किस बिनाह पर झूठे वायदे करके लोगों को गुमराह कर रहे हैं। सरकार की पोल जनता के सामने खोलने के उद्देश्य से ही उनका भंडी प्रचार जारी रहेगा।

Edited By: Vinay Kumar