जेएनएन, जालंधर/चंडीगढ़। Corona cases in Punjab: पंजाब में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के नए मामले तीन हजार का आंकड़ा पार कर गए। वीरवार को 3119 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई, जबकि 56 मरीजों की मौत हो गई। पंजाब में कोरोना से कुल 7334 लोगों की मौत हो चुकी है और सक्रिय मामले 26389 हो गए हैैं। इनमें से 386 को आक्सीजन और 24 को वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। वहीं, 24 घंटे में 2480 लोगों ने कोरोना को मात भी दी। जबकि राज्य में 89808 लोगों को टीका लगाया गया। लुधियाना नार्थ से कांग्रेस विधायक राकेश पांडे, उनकी पत्नी व बेटे की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

वीरवार को होशियारपुर में सबसे ज्यादा 12 कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया। जालंधर में आठ, अमृतसर में सात, पटियाला में छह, लुधियाना में चार, संगरूर व कपूरथला में तीन-तीन, तरनतारन, एसएएस नगर (मोहाली), बरनाला, बठिंडा व फिरोजपुर में दो-दो और फाजिल्का, फरीदकोट व गुरदासपुर में एक-एक कोरोना मरीज की मौत हुई। मोहाली में 456, लुधियाना में 425, जालंधर में 419, पटियाला में 354, अमृतसर में 317, कपूरथला में 177, गुरदासपुर में 138 और होशियारपुर में 126 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई।

मंडियों में गेहूं खरीद के साथ किसानों का होगा टीकाकरण

उधर, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच गेहूं खरीद के साथ ही पंजाब सरकार मंडियों में किसानों के टीकाकरण के लिए विशेष कैंप लगाने की तैयारी कर रही है। एडिशनल चीफ सेक्रेटरी अनिरुद्ध तिवारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि राज्य की 150 बड़ी मंडियों में टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए सेहत विभाग को मंडियों में अलग से जगह उपलब्ध करवाई जाएगी। यहां 45 वर्ष से ऊपर की उम्र वाले किसानों को टीका लगाया जाएगा।

खरीद प्रबंधों को लेकर हुई समीक्षा बैठक में अनिरुद्ध तिवारी ने कहा कि पिछली बार जिस तरह मंडियों में कोरोना टेस्ट करवाए गए थे इस बार किसानों को टीका लगाया जाएगा। मंडियों में गेहूं लाने के लिए पास जारी करते समय किसानों को इस सुविधा के बारे में जानकारी दी जाएगी ताकि किसान चाहें तो मंडियों में ही टीका लगवा सकें। बता दें कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में हर रोज दो लाख लोगों को टीका लगाने के आदेश दिए हैैं और विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी दफ्तरों में भी टीकाकरण किया जा रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021