जालंधर, जेएनएन। गरीबी रेखा से निचले वर्ग के लोगों को पांच लाख रुपये तक सेहत सुविधाओं का लाभ पहुंचाने के लिए आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना का आगाज मंगलवार को रेडक्रॉस भवन में होगा। समारोह में सांसद चौधरी संतोख सिंह मुख्यातिथि होंगे। डिप्टी कमीश्नर वरिंदर कुमार शर्मा समारोह की प्रधानगी करेंगे। सोमवार को सिविल सर्जन डॉ. गुरिंदर कौर चावला ने बताया कि ई-कार्ड बनाने के किए जिले में 100 से ज्यादा कामन केयर सेंटर स्थापित किए हैं।

जिले में 20 निजी अस्पतालों को योजना के तहत इलाज की सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए हरी झंडी दी है। शहरी आबादी में योजना में शामिल सरकारी अस्पताल व निजी अस्पतालों में तैनात आयुष्मान मित्र लोगों को कार्ड बनाने की मुफ्त सुविधा प्रदान करेंगे, जबकि काॅमन केयर सेंटर में प्रत्येक कार्ड के 30 रुपये लगेंगे। उन्होंने कहा कि 20 अगस्त के बाद भी कार्ड बनाने की प्रक्रिया जारी रहेगी। अगर किसी व्यक्ति का कार्ड नही बना तो वह भी मरीज को अस्पताल में दाखिल करवा मौके पर कार्ड बनवा सकते है।

योजना के तहत केवल अस्पताल में दाखिल होने वाले मरीजों को योजना का लाभ मिलेगा। ऑपरेशन से पहले होने टेस्ट तथा छुट्टी मिलने के बाद 15 दिन तक की दवा भी मरीज को इस योजना के तहत मुफ्त मिलेगी। जिला जालंधर में 20 निजी व 14 सरकारी अस्पतालों को इलाज के लिए हरी झंडी दी गई है। इस योजना के तहत किसी भी नए व्यक्ति का नाम दर्ज नहीं किया जाएगा। जो सूची सरकार की ओर से आई है, उसी में शामिल परिवारों को लाभ मिलेगा। योजना को लेकर अगर कोई धांधली करता है या पैसे मांगता है तो तुरंत विभाग को 104 पर सूचित करें। इस मौके पर डॉ. गुरमीत कौर, डॉ. टीपी सिंह, डॉ. सुरिन्दर कुमार तथा डॉ. एसएस नांगल मौजूद थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!