संवाद सहयोगी, होशियारपुर : पिछले दस दिनों से चल रही रामलीला में भगवान राम व लक्ष्मण अपने धनुष से रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण का वध करेंगे। इसके साथ ही बुराई का प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया जाएगा। होशियारपुर के दशहरा ग्राउंड में दशहरा महोत्सव मनाने की तैयारियां मुकम्मल कर ली गई हैं। सुरक्षा के कड़े इंतजामात किए गए हैं। सुरक्षा की कमान एसएसपी कुलवंत सिंह हीर संभालेंगे।

इस बरे में श्रीराम लीला कमेटी के प्रधान शिव सूद ने बताया कि होशियारपुर में पिछले आठ दिन से उत्तर प्रदेश से स्पेशल रूप से बुलाए कारीगर अपनी कलाकारी और हुनर के साथ रावण मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले बना रहे हैं। 65 फुट रावण, 60 फुट मेघनाथ और 55 फुट के कुंभकर्ण के पुतले बनाए गए हैं।

650 पुलिस कर्मचारी तैनात किए है सुरक्षा के लिए

दशहरा में किसी भी प्रकार की घटना न हो इसके लिए पुलिस प्रशासन की तरफ से पूरे दशहरा मैदान में 650 पुलिस कर्मचारी तैनात किए गए जिनकी मुख्य रुप से निगरानी एसपी रविदर सिंह की तरफ से की जाएगी। इसके अतिरिक्त सात डीएसपी, 16 इंस्पेक्टर, 121 एनजीओ और 475 अन्य पुलिस कर्मचारी जिनमें 125 महिला पुलिस कर्मचारियों की तैनाती होगी। पुलिस के साथ फायरब्रिगेड, सेहत विभाग और अन्य एनजीओ संस्थाएं लगी है सुरक्षा में-सेहत विभाग ने विशेष रूप से एक टीम का गठन करके दो दिन पहले ही दशहरा मैदान में तैनात कर दिया यहां पर एक एमबीबीएस डाक्टर के साथ अन्य स्टाफ को ड्यूटी पर तैनात कर दिया है। इसके साथ ही फायर ब्रिगेड की गाड़िया दशहरा मैदान में तैनात कर दी है। इसके अतिरिक्त शहर की कुछ एनजीओ भी अपनी तरफ से दशहरा मैदान में सुरक्षा के लिए तैनात की गई है।

35 जगहों पर मनाया जाएगा दशहरा

जिले में दशहरा पर्व 35 जगहों पर मनाया जाएगा। इसमें हरियाना में 70 पुलिस कर्मचारी तैनात किए है इसके अतरिक्त दसूहा, मुकेरियां, दातारपुर, तलवाड़ा हाजीपुर, के साथ अन्य स्थानों पर जिला पुलिस की तरप से 36 डीएसपी, चार एसपी, 28 इंस्पेक्टर सहित जिला भर में भारी पुलिस बल तैनात रहेंगे।

Edited By: Jagran