संवाद सहयोगी, तलवाड़ा: पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने सोमवार को अपने परिवार के साथ पौंग झील का भ्रमण किया। राज्यपाल ने वन्यप्राणी विग की मोटर बोट से झील के मध्य स्थित रेंसर गढ़ी टापू की सुंदरता को भी निहारा। राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने वन्यजीव विशेषज्ञ व डीएफओ डीएस डडवाल न वन्यजीवों पर लिखी किताब का भी विमोचन किया और किताब में वन्यजीवों व उनके संरक्षण बारे बारीकी से दी गई जानकारी की सराहना की।

उन्होंने वन्यप्राणी संरक्षण विग की प्रिसिपल चीफ डॉ. सविता, सीसीएफ प्रदीप ठाकुर व डीएफओ डीएस डडवाल से बातचीत में कहा एक तरफ सफेद चादर ओढ़े धौलाधार की सुंदरता तो दूसरी तरफ पंजाब के मैदानी इलाके का नजारा रेंसर गढ़ी टापू की सुंदरता में निखार ला रहा है। रेंसर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए बने योजना

रेंसर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए कोई स्टीक योजना बनाई जाए तो टापू में पर्यटकों का आकर्षण में काफी इजाफा हो सकता है। राज्यपाल ने दोपहर बाद पौंग झील में विचरण करने वाले रंग बिरंगे प्रवासी परिदों की क्लोलों का भी खूब आनंद उठाया। कार्यालय डीएफओ व पक्षी विशेषज्ञ डॉ. डीएस डडवाल ने राज्यपाल को विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों व उनकी पहचान के बारे में बताया। केंद्र व हिमाचल सरकार करे प्रयास

राज्यपाल ने कहा पौंग झील की सुंदरता से छेड़छाड़ किए बगैर ही इसे विश्व की प्रथम पर्यटक स्थली के रूप में उभारने की अपार संभावनाएं हैं। राज्यपाल ने कहा कि हिमाचल सरकार को केंद्र सरकार से मिलकर इस ओर कोई विशेष कदम उठाने चाहिएं। उन्होंने आश्वासन दिया पौंग झील की सुंदरता को पर्यटन से जोड़ने के लिए वह शीघ्र ही अपनी सिफारिश केंद्र व हिमाचल सरकार को भेज कर आग्रह करेंगे कि इसके लिए विशेष पैकेज का प्रावधान किया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!