जागरण संवाददाता, बटाला: अपनी लंबित मांगों को लेकर स्थानीय बस स्टैंड यूनियन के कार्यकत्र्ताओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए गेट रैली निकाली। यूनियन के नेता जगदीप ¨सह ने बताया कि सरकार उनके वादे पूरे न कर शोषण कर रही है, जिसे वे बदार्शत नहीं करेंगे। इससे पहले पंजाब रोडवेज यूनियन ने वर्कशॉप में इकट्ठा होकर अपना कामकाज ठपकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते कहा कि सत्ता हासिल करने से पहले सीएम कैप्टन ने पंजाब यूनियन के पदाधिकारियों से मिलकर भरोसा दिलाया था वे कि सरकार बनते ही उनकी हर एक मांग को पूरा करेंगे। डेढ़ साल से सरकार सत्ता में है, लेकिन इतने समय में उनकी एक मांग को सरकार ने पूरा नहीं किया। डिपो का कामकाज ठपकर सरकार के विरुद्ध हड़ताल की गई। उन्होंने चेतावनी देते कहा कि अगर राज्य सरकार ने उनकी मांगों की तरफ जल्द गौर नहीं किया तो वे सरकार के खिलाफ कड़ा संघर्ष करेंगे। क्या हैं प्रमुख मांगें

1. कांट्रैक्ट कर्मचारियों को रेगुलर किया जाए।

2. ठेकेदारी सिस्टम बंदकर रेगुलर मुलाजिम रखे जाएं।

3. डीए की किस्तें जल्द जारी की जाएं।

4. 2006 से पहले वाली पेंशन प्रणाली को शुरू किया जाए।

5. 6वां पे-कमीशन जल्द लागू किया जाए।

6. डिपो में भ्रष्टाचार नीतिया समाप्त होनी चाहिए।

7. पंजाब रोडवेज की बसों के टाईम टेबल में बढ़ोतरी की जाए।

Posted By: Jagran